रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अटल बिहारी वाजपेयी कन्वेंशन सेंटर में 185 करोड़ की योजनाओं का किया लोकार्पण

रक्षा मंत्री और सांसद राजनाथ सिंह ने अटल बिहारी वाजपेयी कन्वेंशन सेंटर में 185 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण किया। इस दौरान रक्षामंत्री ने कहा कि इंफ्रा क्षेत्र में सबसे ज्यादा काम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार कर रही है। आने वाले समय में जल्द ही यूपी इस क्षेत्र में नंबर वन होगा।बोले, अत्यधिक व्यस्तता रहने के बावजूद कोशिश करता हूँ कि जनता के बीच आता रहूं। क्योंकि जनता अपने जनप्रतिनिधि से यह अपेक्षा करती है। वह बोले, जब भी लोकार्पण करता हूँ, अटल जी की याद आती है। लखनऊ के विकास के लिए जितना बन सका अटल जी ने किया। शहर को जाम से मुक्त करने के लिए उन्होंने सबसे बड़ा काम शहीद पथ बनवाकर किया। अटल जी के नक्शे कदम पर मैं भी चलने की कोशिश कर रहा हूं।

रक्षा मंत्री ने कहा, लखनऊ में हर साल एक लाख वाहन बढ़ रहे हैं। ऐसे में जाम की समस्या लगातार बढ़ती जा रही। शहर में मैंने अभी तक छह फ्लाईओवर बनवाए हैं। छह और बन रहे हैं। 104 किमी का आउटर रिंग रोड का काम प्रगति पर है। इसका 70-80 फीसद काम पूरा हो चकु है। दिसंबर में लोकार्पण होगा। इंफ्रा के विकास में यूपी सबसे आगे होगा। राजनाथ सिंह ने कहा, हमारी ख्वाहिश है कि लखनऊ से लांस एंजेल्स और लन्दन की भी फ्लाइट चलनी चाहिए। लखनऊ में जल्द 5जी शुरू हो, इसके लिए काम कर रहा हूं।

इस दौरान रक्षा मंत्री ने कांग्रेस की चुटकी लेते हुए कहा, जब भी 2जी का नाम आता है तो कांग्रेस के घोटाले की याद आ जाती है। आश्वस्त करता हूँ, जब तक मोदी जी हैं कोई माइ का लाल घोटाला नहीं कर सकता है। उन्होंने यूपी की कानून व्यवस्था की तारीफ करते हुए सीएम योगी को श्रेय दिया। पहले केंद्र से एक रुपये भेजा जाता तो सिर्फ 15 पैसा पहुंचता, अब 100 रुपये भेजा जाता है तो पूरा 100 रुपये पहुंचता है। इसलिए विकास कार्य प्रगति पर है। 

राजनाथ सिंह ने आगे कहा, सिस्टम में बदलाव से ही भ्रष्टाचार दूर हो सकता है। दुनियाभर में भारत की साख बढ़ रही है। पहले अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत बोलता था तो लोग गंभीरता से नहीं सुनते थे। अब विदेशों में भी मोदी का भाषण सुनने के लिए भीड़ लगती है। हर मामले में भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। अर्थव्यवस्था के आकार की दृष्टि से भारत दुनिया का पांचवा देश है। कोविड संकट से कई देश नहीं उभर पाए। लेकिन, भारत ने मजबूती से लड़ाई लड़ी। वर्तमान में भारत 13000 करोड़ का रक्षा उपकरण निर्यात कर रहा है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो 2025 तक 40 से 45 हजार करोड़ रक्षा उत्पाद का निर्यात होगा।

रक्षा मंत्री ने कहा, तीन हजार आइटम हम बाहर से नही मंगाएंगे। पाकिस्तान की धरती पर सर्जिकल स्ट्राइक की। रूस और यूक्रेन युद्ध के दौरान भारत अपने बच्चों को वापस लाने में सफल रहा। मोदी के नेतृत्व में 22 हजार छात्र-छात्राएं सफलतापूर्वक भारत लौटीं। उन्होंने कहा, पीएम गति शक्ति योजना पर काम शुरू हो गया है। भारत अपने सीमाओं की रक्षा कर सकता है। चीन के खिलाफ पहली बार इतना बड़ा कदम उठाया गया। भारत ने किसी के ऊपर पहले आक्रमण नहीं किया, एक इंच जमीन कब्जा नहीं की। ये भारत का चरित्र है। इस दौरान उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद, पूर्व उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा, ऊर्जा और नगर विकास मंत्री अरविंद शर्मा और बख्शी का तालाब विधानसभा के विधायक योगेश शुक्ला सहित कई नेता मौजूद रहे। 

Related Articles

Back to top button