दो दिवसीय कानपूर दौरे पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द,चौ. हरमोहन सिंह पैरा मेडिकल इंस्टीट्यूट में समारोह को संबोधित करेंगे

राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द सुबह करीब 11:07 बजे कानपुर के चकेरी एयरपोर्ट पर विशेष विमान से उतरे, उनके साथ पत्नी सविता कोविन्द भी मौजूद रहीं। यहां पर पहले से उपस्थित राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी अगवानी की और पुष्प भेंट किया। कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, कैबिनेट मंत्री नीलिमा कटियार और महापौर प्रमिला पांडे समेत भाजपा कानपुर दक्षिण जिलाध्यक्ष वीना आर्य पटेल समेत करीब 16 लोगों ने भी शिष्टाचारी भेंट की।

jagran

करीब दस मिनट बाद राष्ट्रपति का काफिला मेहरबान सिंह पुरवा में आयोजित कार्यक्रम के लिए रवाना हो गया। इसके बाद मुख्यमंत्री भी हेलीकॉप्टर से लखनऊ के लिए रवाना हो गए।

jagran

एयरपोर्ट से निकलकर राष्ट्रपति का काफिला पूर्व प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत मेहरबान सिंह का पुरवा स्थित चौधरी हरमोहन सिंह पैरा मेडिकल इंस्टीट्यूट पहुंचा। यहां पर राष्ट्रपति ने चौधरी राम गोपाल यादव और शौर्य चक्र विभूषित चौधरी हरमोहन सिंह यादव की समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी तो राज्यपाल ने भी नमन किया। इसके बाद राष्ट्रपति मंच पर पहुंचे, उनके साथ मंच पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, राज्यसभा सदस्य सुखराम सिंह, उनके बेटे मोहित यादव मौजूद हैं।

jagran

स्व. चौधरी हरमोहन सिंह यादव के जन्म शताब्दी वर्ष समारोह में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने कहा न रहने पर भी लोग उनका स्मरण कर रहे हैं और खुद राष्ट्रपति उन्हें श्रद्धांजलि देने आए हैं। ऐसे व्यक्तित्व थे चौधरी हरमोहन जी, जिन्होंने दूसरो की सेवा के लिए अपना जीवन जिया और ग्रामीण विकास व किसानों की उन्नति के अलावा शिक्षण क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य किये। वह बढ़ती उम्र में भी समाज की सेवा करते रहे। शिक्षा से विकास के रास्ते खुलते हैं और वह युवा पीढ़ी के लिए अनुस्मरणीय है। वर्ष 1984 में दंगाइयों से मोर्चा लिया था और उन्हें वर्ष 1991 में शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। राज्यपाल ने कहा कि विकास की गति तभी बढे़गी जब भाईचारा होगा, जातिवाद से उठकर समाज व देश को मजबूत करना होगा।

कार्यक्रम के बाद राष्ट्रपति शाम पांच बजे से सर्किट हाउस में लोगों से मिलेंगे, जिनमें चिकित्सक, समाजसेवी, उद्यमी और उनके पुराने मित्र शामिल हैं। दूसरे दिन राष्ट्रपति हरकोर्ट बटलर प्राविधिक विश्वविद्यालय जाएंगे, जहां शताब्दी वर्ष समारोह को संबोधित करेंगे। राज्यपाल भी विश्वविद्यालय में उनके साथ रहेंगी। 25 नवंबर को राष्ट्रपति एक बजे चकेरी एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

25.55 घंटे शहर में रहेंगे राष्ट्रपति : राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द शहर में 25.55 घंटे रहेंगे। राष्ट्रपति बुधवार को सुबह 11.05 बजे एयरपोर्ट पहुंचेंगे और अगले दिन गुरुवार को एक बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे। राष्ट्रपति एयरपोर्ट से 11.35 बजे मेहरबान सिंह का पुरवा में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए रवाना होंगे। 12.50 बजे तक कार्यक्रम में रहेंगे और एक बजे सिविल एयरोड्रम के लिए उड़ान भरेंगे। 1.20 बजे वहां पहुंचेंगे और फिर सर्किट हाउस आ जाएंगे। अगले दिन 10.45 बजे एचबीटीयू जाएंगे। वहां से 12.50 बजे चकेरी एयरपोर्ट जाएंगे और एक बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

राष्ट्रपति का मिनट टू मिनट कार्यक्रम

24 नवंबर

-सुबह 9.45 बजे : दिल्ली से चलेंगे और 11.05 बजे चकेरी एयरपोर्ट आएंगे।

-11.35 बजे : मेहरबान सिंह का पुरवा के लिए निकलेंगे और 11.50 बजे पहुंचेंगे।

-12.50 बजे तक कार्यक्रम में रहेंगे। एक बजे वहां से चलेंगे और 1.20 बजे सिविल एयरोड्रम आएंगे।

-1.30 बजे : सिविल एयरोड्रम से चलेंगे और, 1.40 बजे सर्किट हाउस आएंगे। पांच बजे से अपनों से मिलेंगे।

25 नवंबर

10 बजे : सर्किट हाउस से सिविल एयरोड्रम जाएंगे। 10.10 बजे वहां पहुंचेंगे।

10.25 बजे : एयरोड्रम से हेलीकाप्टर से एचबीटीयू जाएंगे। 10.45 बजे एचबीटीयू पहुंचेंगे।

11.20 बजे : 12.20 बजे तक एचबीटीयू में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

12.30 बजे : एचबीटीयू से चकेरी एयरपोर्ट जाएंगे। 12.50 बजे पहुंचेंगे।

1.00 बजे : चकेरी से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × one =

Back to top button