पेट्रोल -डीजल को लेकर 6 जनवरी है बहुत ही खास तारीख, क्रूड बनाने वाले देश लेंगे बड़ा फैसला

पेट्रोल -डीजल की कीमतों को लेकर गुरुवार को अच्‍छी खबर आ सकती है। क्‍योंकि ओपेक और संबद्ध तेल उत्पादक देश उस दिन कोरोना वायरस महामारी के चलते बीते दिनों उत्पादन में की गई कटौती को बहाल करने पर फैसला करेंगे। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि वायरस के नए स्वरूप ओमिक्रोन के तेजी से फैलने के बाजवूद आवाजाही और ईंधन की मांग बनी रहेगी, जिसके चलते तेल उत्पादक में की गई कटौती को वापस लेने का फैसला किया जा सकता है।

फरवरी में प्रतिदिन 4 लाख बैरल तेल उत्पादन बढ़ेगा

विश्लेषकों का कहना है कि तेल उत्पादक समूह फरवरी में प्रतिदिन 4 लाख बैरल तेल उत्पादन बढ़ा सकता है। इस समूह में सऊदी अरब की अगुवाई वाले ओपेक देशों के अलावा रूस के नेतृत्व में स्वतंत्र देश शामिल हैं। इस तरह ओपेक और संबंद्ध देशों की कुल संख्या 23 है, जो आने वाले महीने के लिए उत्पादन स्तर तय करने के लिए हर महीने ऑनलाइन मिलते हैं।

दिल्‍ली में 95 रुपये है पेट्रोल

बता दें कि तेल मार्केटिंग कंपनियों (ओएमसी) ने 3 नवंबर, 2021 से प्रमुख भारतीय शहरों में डीजल और पेट्रोल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया है। इस हिसाब से दिल्ली में डीजल और पेट्रोल की कीमत क्रमश: 86.67 रुपये प्रति लीटर और 95.41 रुपये प्रति लीटर पर बनी हुई है।

क्‍या है मुंबई, कोलकाता में दाम

तेल कंपनियों की वेबसाइट पर दी कीमतों को मानें तो महाराष्‍ट्र के मुंबई में दरें 94.14 रुपये और 109.98 रुपये पर अपरिवर्तित चल रही हैं। कोलकाता में भी तेल की कीमतें 89.79 रुपये और 104.67 रुपये पर स्थिर रही हैं। चेन्नै में भी ये 91.43 रुपये और 101.40 रुपये पर बनी हुई है। देशभर में भी रविवार को डीजल, पेट्रोल की कीमत अपरिवर्तित रही, लेकिन स्थानीय स्तर के करों के आधार पर खुदरा दरें भिन्न हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

7 + 16 =

Back to top button