ईरान से एक हैरान करने वाला मामला आया सामने, बेटी को गुमराह कर धोखे से उसी की मां को दी फांसी..

Daughter Execute Mother: ईरान (Iran) से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. दरअसल यहां एक बेटी को इस प्रकार से गुमराह किया गया कि उसने खुद अपनी मां को फांसी की सजा दे दी. हैरान करने वाली बात है कि ऐसा करने में ईरान के कानूनी दांव-पेंच की मदद भी ली गई. दरअसल ईरान में एक ऐसा बर्बर कानून (Iran Barbaric Law) है जिसमें मृतक के रिश्तेदार को दोषी को सजा सुनाने का अधिकार होता है. इसी कानून का सहारा लेकर बेटी के हाथों उसकी अपनी मां की मौत का पहले फरमान निकलवाया गया और बाद में मां को फांसी भी बेटी की मदद से दी गई. आइए जानते हैं कि ये पूरा मामला क्या है?

बेटी के हाथों दिलाई मां को सजा

द मिरर में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, ईरान के बर्बर कानून के तहत महिला को मौत की सजा मिली. चौंका देने वाली बात है कि जब महिला को फांसी दी गई तो किसी जल्लाद ने लीवर नहीं खींचा, बल्कि इसके लिए उसकी बेटी को मौके पर बुलाया गया था. बेटी ने मां के पैरों के नीचे रखी कुर्सी को लात मारी और मां फांसी के फंदे पर झूल गई.

महिला को क्यों दी गई फांसी?

बता दें कि फांसी की सजा पाने वाली महिला का नाम मरियम करीमी था. उसको अपने पति की हत्या के मामले में दोषी पाए जाने के बाद मौत की सजा दी गई. बताया जा रहा है कि महिला के पिता इब्राहिम ने अपने दामाद से विवाद सुलझाने के लिए कई बार प्रयास किया था लेकिन उसको सफलता नहीं मिली थी. पति पर मरियम के साथ घरेलू हिंसा करने का आरोप था. इसके बाद इब्राहिम ने कथित रूप से अपने दामाद को जान से मार दिया. इस मामले में मरियम पर भी आरोप लगे.

बच्ची से बोला गया ये झूठ

फिर घटना के बाद पुलिस ने मरियम और उसके पिता इब्राहिम को गिरफ्तार कर लिया और मरियम की 6 साल की बच्ची को उसके दादा-दादी के घर भेज दिया गया. वहां बच्ची को उसके दादा-दादी ने बताया कि उसके माता-पिता नहीं हैं, वो अनाथ है. उनकी 13 साल पहले मौत हो चुकी है.

हाल ही में 19 साल की बच्ची को बताया गया कि उसके नाना और मां ने उसके पिता को मौत के घाट उतारा था. चूंकि मृतक की सबसे करीबी रिश्तेदार बच्ची और मृतक के माता-पिता थे तो उन्होंने महिला को मौत की सजा देने का फैसला किया.

Related Articles

Back to top button