अनुबंध खत्म होने से एक माह पूर्व मैनपावर सेवा क्रय की प्रक्रिया पोर्टल पर होगी शुरू

अपर मुख्य सचिव, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डॉ. नवनीत सहगल ने जेम पोर्टल पर विभिन्न विभागीय वस्तुओं के क्रय और सेवाओं की आपूर्ति में आ रही समस्याओं के समाधान और परफारमेंस सिक्यूरिटी में छूट दिये जाने संबंधी आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये हैं। रविवार को अपर मुख्य सचिव ने बताया कि जेम पोर्टल से सेवा क्रय करने की प्रक्रिया को पूर्ण करने में कम से कम 15 दिन का समय लगता है।

लखनऊ (आरएनएस )

ऐसे में संबंधित विभाग सुनिश्चित करेंगे कि वर्तमान में चल रहे अनुबंध समाप्त होने से एक माह पूर्व ही मैनपावर सेवा क्रय की प्रक्रिया जेम पोर्टल पर प्रारंभ कर देंगें, ताकि शासकीय कार्य में व्यवधान उत्पन्न न हो। उन्होंने बताया कि पूर्व में स्पष्ट किया जा चुका है कि जोन, मण्डल, जनपद अथवा किसी अन्य वर्गीकरण के आधार पर टुकड़ों में मैनपावर नहीं लिया जायेगा। क्रेता विभाग को जिन कार्मिकों की आवश्यकता हो, उनकी जेम पोर्टल के माध्यम से एक ही बिड की जायेगी, जिससे सुदृढ़ और सक्षम सेवा प्रदाता का चयन हो सकेगा। उन्होंने बताया कि मैनपावर आउटसोर्सिंग के लिये सेवाओं में विभाजन की प्रक्रिया प्रस्तावित है। इस विकल्प के पोर्टल पर उपलब्ध होने के बाद निविदा में एक से अधिक सेवा प्रदाताओं के मध्य कार्य का आवंटन किया जा सकेगा। डॉ. सहगल ने बताया कोविड महामारी के दृष्टिगत समस्त प्रचलित व नवीन अनुबंधों में निविदादाता से ली जाने वाली परफारमेंस सिक्यूरिटी को कम करके 03 प्रतिशत कर दिया गया था। भारत सरकार द्वारा इसकी समय-सीमा को 31 मार्च 2023 तक बढ़ा दिया गया है। यह व्यवस्था प्रदेश में भी यथावत लागू रहेगी। उन्होंने बताया कि कतिपय विभागों द्वारा संबंधित उत्पाद, सेवा की कैटेगरी उपलब्ध होने के बाद भी कस्टम बिड आमंत्रित की जाती रही है, जो शासनादेश में वर्णित व्यवस्था के विपरीत है। कस्टम बिड समक्ष स्तर से अनुमोदन लेने के बाद ही पोर्टल पर फ्लोट की जायेगी। ऐसा न होने की दशा में जेम पोर्टल द्वारा बिड को निरस्त कर दिया जायेगा।

Rashtriya News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 × 5 =

Back to top button