उत्तर कोरिया ने लंबी दूरी वाले दो क्रूज मिसाइलोंं की टेस्ट फायरिंग की

उत्तर कोरिया के मिसाइल लान्च पर हमला बोलते हुए अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने चेताया कि यदि उत्तर कोरिया इसी राह पर चलता रहा तो इससे केवल उसकी निंदा होगी और उसे वैश्विक मंच पर अलग-थलग कर दिया जाएगा।

उत्तर कोरिया ने लंबी दूरी वाले दो क्रूज मिसाइलोंं की टेस्ट फायरिंग की।  गुरुवार को इसकी जानकारी स्थानीय मीडिया ने दी। साथ ही बताया कि नेता किम जोंग-उन (Kim Jong-un) ने  मिसाइलों की टेस्ट फायर को गाइड किया था। 

मिसाइल टेस्टिंग से दूसरे देशों को उकसाया जा रहा

शनिवार को दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ्स आफ स्टाफ ने इसे गंभीर तौर पर उकसाना करार दिया जिससे शांति और सुरक्षा को नुकसान पहुंच रहा है। ज्वाइंट चीफ्स ने बताया, ‘उत्तर कोरिया के बार-बार बैलिस्टिक मिसाइल लान्च से गंभीर तौर पर शांति और सुरक्षा को नुकसान पहुंच रहा है। साथ ही यह UNSC रिजालूशन का भी उल्लंघन है।’

अमेरिका ने दी चेतावनी

ज्वाइंट चीफ्स ने बताया कि लान्च किए गए प्रोजेक्टाइल का फ्लाइट रेंज करीब 350 किमी है और इसकी ऊंचाई 90 किमी है। मिसाइल लान्च पर हमला बोलते हुए अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने चेताया कि यदि उत्तर कोरिया इसी राह पर चलता रहा तो इससे केवल उसकी निंदा होगी और उसे वैश्विक मंच पर अलग-थलग कर दिया जाएगा। किम जोंग-उन की देख-रेख में इस साल उत्तर कोरिया ने रिकार्ड नंबर की मिसाइलों की टेस्टिंग की। बता दें कि उत्तर कोरिया अपने शस्त्रागार का विस्तार करने में जुटा हुआ है।

युद्धक क्षमता विकसित 

KCNA के अनुसार, लंबी दूरी के मिसाइलों की तैनाती और युद्धक क्षमता विकसित करने के लिए ये टेस्ट फायर किए जा रहे हैं। सोमवार को स्थानीय मीडिया ने कुछ तस्वीरें रिलीज कीं जिसमें किम देश के किसी गोपनीय स्थान पर मिसाइल लान्च का मुआयना कर रहे हैं। 4 अक्टूबर को जिस मिसाइल की जापान पर फायरिंग की गई थी वह बिल्कुल नया था। किम की अगुवाई में उत्तर कोरिया ने अनेकों मिसाइल टेस्ट किए हैं जिससे कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव बढ़ रहे हैं। प्योंगयांग ने अनेकों मिसाइल पिछले कुछ हफ्ते में फायर किया है जिससे इलाके में चिंताएं बढ़ गईं हैं।

Related Articles

Back to top button