मोरक्को में भूकंप से भारी तबाही, अभी तक रेस्क्यू जारी, 2000 से ज्यादा की मौत

मोरक्को। मोरक्को में भूकंप से हुई जान-माल की तबाही का खौफनाक मंजर दुनिया के सामने दिखने लगा है। हाई एटलस पहाड़ियों पर शुक्रवार देर रात आए इस विनाशकारी भूकंप ने कई शहरों और गांवों को तबाह कर दिया है।

इस बीच मोरक्को के आंतरिक मंत्रालय ने आज फिर मौतों का आंकड़ा जारी किया है। जिसमे कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़कर 2,012 हो गई है और घायलों की संख्या 2,059 हो गई है। इनमें से 1,404 की हालत गंभीर है।मीडिया रिपोर्ट्स में यह जानकारी दी गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भूकंप के केंद्र के पास अमिज्मिज गांव में भारी तबाही हुई है।राहत एवं बचाव कार्य जारी है। सड़कें मलबे से भर गई हैं।अपनों के शव देखकर लोगों की आंखें नम हो गई हैं। इस भूकंप ने प्राचीन शहर मराकेश में भी भारी तबाही मचाई है। इस शहर में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल सूची में शामिल कई इमारतें क्षतिग्रस्त हो गई हैं।

भूकंप से सबसे ज्यादा तबाही अल हौज़, मराकेश, अजीलाल, उआरज़ाज़ेट, तरौदंत और चिचौआ प्रांतों में हुई। मोरक्कन जियोफिजिकल सेंटर के अनुसार कल भूकंप हाई एटलस के इघिल क्षेत्र में आया। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 7.2 थी। अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण ने भूकंप की तीव्रता 6.8 बताई है। उन्होंने कहा कि यह 18.5 किलोमीटर (11.5 मील) की अपेक्षाकृत उथली गहराई पर था।

इधर जी 20 सम्मलेन में भी मोरक्को में भूकंप के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि भारत इस कठिन समय में मोरक्को को हर संभव सहायता देने के लिए तैयार है।

Tag: #nextindiatimes #G20Summit #moracco #earthquake

Related Articles

Back to top button