NIA और ED ने की PFI के इन ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई..  

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA), प्रवर्तन निदेशालय (ED) और राज्य पुलिस बलों की संयुक्त टीम ने पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (PFI) मामले में 10 राज्यों में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है। जांच एजेंसी की कार्रवाई में 100 से अधिक PFI के नेताओं को गिरफ्तार किया गया है। ये तलाशी आतंकवाद को फंडिंग करने, ट्रेनिंग कैंप आयोजित करने और प्रतिबंधित संगठनों में शामिल होने के लिए लोगों को कट्टरपंथी बनाने में शामिल व्यक्तियों के घरों और कार्यालयों में की जा रही है।

PFI के 100 से अधिक कैडर गिरफ्तार

सूत्रों ने समाचार एजेंसी ANI को बताया, ‘देश भर में 10 राज्यों में बड़ी कार्रवाई करते हुए, NIA, ED और राज्य पुलिस ने PFI के 100 से अधिक कैडरों को गिरफ्तार किया है।’ सूत्रों के मुताबिक तेलंगाना, केरल, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश और कई अन्य राज्यों में छापेमारी की कार्रवाई हुई है।

jagran

कार्रवाई के विरोध में प्रदर्शन

जांच एजेंसी की इस कार्रवाई के विरोध में कई जगह PFI और SDPI के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। कर्नाटक के मंगलुरु में NIA की कार्रवाई के खिलाफ PFI और SDPI के समर्थकों ने प्रदर्शन किया। साथ ही तमिलनाडु के डिंडुगल में NIA की कार्रवाई के विरोध में PFI के 50 से अधिक कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं।

कुछ दिन पहले भी हुई थी कार्रवाई

बता दें कि NIA ने इस महीने की शुरुआत में एक PFI मामले में तेलंगाना, आंध्र प्रदेश में 40 स्थानों पर छापेमारी की थी, जिसमें चार लोगों को हिरासत में लिया गया था। जांच एजेंसी ने तब तेलंगाना में 38 स्थानों (निजामाबाद में 23, हैदराबाद में चार, जगत्याल में सात, निर्मल में दो, आदिलाबाद और करीमनगर जिलों में एक-एक) और आंध्र प्रदेश में दो स्थानों (कुरनूल और नेल्लोर में एक-एक) पर तलाशी ली थी। उस दौरान, तलाशी अभियान में डिजिटल डिवाइस, दस्तावेज, दो चाकू और 8,31,500 रुपये नकद सहित अन्य आपत्तिजनक सामान जब्त की थी। NIA ने बताया कि सभी आरोपी आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए ट्रेनिंग कैंप आयोजित कर रहे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button