भाजपा से निकाले गए नवीन कुमार जिंदल को मिली जान से मरने की धमकी ,परिवार ने छोड़ा दिल्ली

 आपत्तिजनक टिप्पणी और विवादित बयानों के चलते हाल ही में भारतीय जनता पार्टी से निकाले गए नवीन कुमार जिंदल (Naveen Kumar Jindal) के परिवार ने दिल्ली छोड़ दिया है। नवीन जिंदल और उनके परिवार को कई दिनों से लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। बताया जा रहा है कि लगातार मिल रही धमकी के चलते नवीन कुमार जिंदल ने परिवार को दिल्ली से बाहर शिफ्ट करने का फैसला लिया है।

भाजपा से निष्कासित नेता नवीन कुमार जिंदल ने इस बाबत बाकायदा बयान जा रही है कि लगातार मिल रही धमकी के बाद उनके परिवार ने दिल्ली छोड़ दिया है। वह अन्य शहर में शिफ्ट हो गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी जानकारी दी है कि वह दिल्ली में ही हैं,  सिर्फ उनके परिवार ने दिल्ली छोड़ा है।

यहां पर बता दें कि भारतीय जनता पार्टी ने रविवार (5 जून) को दिल्ली भाजपा के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। भाजपा ने कहा था कि सोशल मीडिया पर उनकी टिप्पणियों ने सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने का काम किया। इसके साथ ही नूपुर शर्मा को भी भारतीय जनता पार्टी ने निलंबित कर दिया गया है। 

गौरतलब है कि बर्खास्त भाजपा नेता नवीन जिंदल के परिवार ने मौत की धमकी के बाद दिल्ली छोड़ दिया है। नवीन कुमार जिंदल को पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ उनकी टिप्पणी पर विवाद के बाद भाजपा से बर्खास्त कर दिया गया था, जो निलंबित पार्टी भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के समर्थन में भी पैगंबर के खिलाफ था। बर्खास्त नेता ने यह भी आरोप लगाया कि कुछ दिन पहले जब वह किसी से मिलने गए तो कुछ लोग उनका पीछा भी कर चुके थे। उसने पुलिस को इसके बारे में सूचित किया। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया है क्योंकि सोशल मीडिया पर ऐसी खबरें चल रही थीं कि अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर उसके घर की रेकी की थी।

नवीन कुमार जिंदल ने बयान जारी कर मैं अभी भी दिल्ली में रह रहा हूं। डर के मारे मेरे परिवार ने शहर छोड़ दिया है। यह पलायन है।

बता दें कि शनिवार शाम को लक्ष्मी नगर चौक में विरोध मार्च का आह्वान किया गया है। नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल द्वारा की गई टिप्पणी के खिलाफ शुक्रवार को देश के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। इसके बाद अखंड भारत मोर्चा ने उनके पक्ष में विरोध मार्च निकालने का ऐलान किया. इस सिलसिले में पुलिस ने आयोजक संदीप आहूजा को हिरासत में लिया है।

यह है पूरा मामला

गौरतलब है कि नूपुर शर्मा ने ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में मिले कथित शिवलिंग मसले पर एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित तौर पर विवादास्पाद टिप्पणी की थी, जिसके बाद उनकी आलोचना होने लगी थी।

आरोप है कि नूपुर शर्मा के कथित बयान के बाद कई लोगों ने इंटरनेट मीडिया पर भड़काऊ बयान दिए। नूपुर शर्मा को उनके कथित बयान की वजह से भाजपा ने पार्टी से निलंबित कर दिया। पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित बयान के बाद नूपुर शर्मा को जान से मारने की धमकी मिली, जिसकी शिकायत उन्होंने दिल्ली पुलिस से की। दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर नूपुर शर्मा को सुरक्षा प्रदान की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

five × 1 =

Back to top button