भूल कर भी कभी इन जगहों पर ना रखें लाफिंग बुद्धा वरना छा जाएगी कंगाली

लाफिंग बुद्धा आज के समय में हर दूसरे-तीसरे घर में देखने के लिए मिलते हैं। जी दरअसल इनको घर की खुशहाली, सुख, संपन्नता और समृद्धि से जोड़कर देखा जाता है। इसी के चलते ऐसी मान्यता है कि घर में लाफिंग बुद्धा के रहने से धन के भंडार कभी खाली नहीं होते हैं। जी हाँ और आप घर, रेस्टोरेंट या ऑफिस किसी भी जगह इनकी प्रतिमा रख सकते हैं। लेकिन कुछ जगहें ऐसी भी होती हैं, जहां कभी लाफिंग बुद्धा नहीं रखना चाहिए। अब आज हम आपको उन्ही जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं।

* वास्तु शास्त्र के अनुसार, लाफिंग बुद्धा की प्रतिमा को मुख्य द्वार के सामने कम से कम 30 इंच की ऊंचाई पर रखना चाहिए। जी हाँ और इसे रखने के लिए सही ऊंचाई 30 इंच से ऊपर और 32.5 इंच से कम होनी चाहिए। केवल यही नहीं बल्कि आप पूर्व या उगते सूरज की दिशा में भी लाफिंग बुद्धा को रख सकते हैं। जी हाँ क्योंकि इसे परिवार के सौभाग्य का स्थान कहा जाता है।

* लाफिंग बुद्धा का चेहरा घर के मुख्य द्वार के ठीक सामने होना चाहिए ताकि दरवाजा खुलने पर घर में आने वाले किसी भी शख्स की सबसे पहले लाफिंग बुद्धा पर ही नजर पड़े। ऐसा होने से घर में प्रवेश करने वाली नकारात्मक ऊर्जा भी नष्ट हो जाती है। इसी के साथ आप लाफिंग बुद्धा की मूर्ति बच्चों की स्टडी मेज पर रख सकते हैं क्योंकि इससे उनकी एकाग्रता बढ़ेगी और शिक्षा में बेहतर परिणाम मिलेंगे।

* वास्तु के अनुसार, घर में रखे लाफिंग बुद्धा की नाक घर के मालिक के हाथ की एक उंगली के बराबर होनी चाहिए। इसी के साथ लाफिंग बुद्धा की मूर्ति की मैक्सिम हाइट घर की मालकिन के हाथ के लगभग बराबर होनी चाहिए। कहा जाता है घर में रखी लाफिंग बुद्धा की ऐसी मूर्ति कभी इंसान को कंगाल नहीं होने देती।

किन जगहों पर ना रखें लाफिंग बुद्धा?- ध्यान रहे वास्तु के अनुसार, किचन, डाइनिंग एरिया, बेडरूम के अंदर या टॉयलेट-बाथरूम के आस-पास कभी लाफिंग बुद्धा नहीं रखना चाहिए। जी हाँ और इसी के साथ इसे कभी सीधे जमीन पर रखने की गलती ना करें। बल्कि इसे रखने के लिए मेज या टेबल का इस्तेमाल करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty − 12 =

Back to top button