NEET और JEE परीक्षा कराए जाने के पक्ष में सीएम योगी, बोले- बीएड की परीक्षा में किसी को नहीं हुआ कोरोना

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की वजह से NEET और JEE परीक्षा स्थगित करने की मांग को लेकर विपक्ष का विरोध चल रहा है। इस बीच यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने NEET और JEE परीक्षाओं के आयोजन को टालने के बीच स्पष्ट कर दिया है कि यूपी सरकार इन परीक्षाओं के आयोजन का समर्थन करती है।

योगी ने लखनऊ की एक उच्चस्तरीय बैठक में हिस्सा लेने के बाद कहा कि प्रदेश सरकार नीट तथा जेईई परीक्षाओं के आयोजन का समर्थन करती है। हाल ही में राज्य में बीएड की प्रवेश परीक्षा संपन्न हुई, जिसमें लगभग 5 लाख अभ्यर्थी थे। इस परीक्षा में कहीं से भी संक्रमण (कोरोना वायरस) की कोई खबर नहीं आई है।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव NEET और JEE परीक्षा को टालने के पक्ष में हैं। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि “जेईई, नीट परीक्षा करवाने पर अड़ी भाजपा ने अब ये ख़ुलासा कर दिया है कि उसने ‘मानव संसाधन मंत्रालय का नाम क्यों बदला, क्योंकि शिक्षा व शिक्षार्थियों के प्रति उसका दृष्टिकोण ‘मानवीयता से रिक्त है”।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर लिखा था कि  ‘ NEET और JEE परीक्षा में शामिल होने वाले लाखों छात्रों से कहना चाहूंगी कि वे अच्छे से परीक्षा की तैयारी करें। इसके अलावा, मैं संबंधित अधिकारियों से भी कोरोना महामारी के बीच परीक्षा के सुरक्षित संचालन को सुनिश्चित करने के लिए सभी सावधानी बरतने को कहूंगी।’

इसके साथ ही ओवैसी और आम आदमी पार्टी ने परीक्षा आयोजित कराए जाने का विरोध किया है। AMMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि  ‘मुझे उम्मीद है कि बेहतर समझ बनेगी और JEE और NEET की तारीख आगे बढ़ा दिया जाएगा। लेकिन छात्रों को मेरी सलाह है कि वो सबसे बुरे के लिए तैयार रहें। अगर आप इस सरकार से सहानुभूति और निष्पक्षता की उम्मीद कर रहे हैं”।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 + 20 =

Back to top button