अयोध्या में दीपोत्सव की तैयारियों को लेकर बैठक करते मण्डलायुक्त नवदीप दिणवा

 मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा की अध्यक्षता में अयोध्या में प्रान्तीयकृत छठवे दीपोत्सव 2022 को भव्य एवं दिव्य मनाये जाने के सम्बंध में आयुक्त सभागार में जिले के सभी आलाधिकारियों के साथ तैयारियां की समीक्षा बैठक की। छठवा दीपोत्सव 23 अक्टूबर 2022 को भव्य रूप में मनाया जायेगा। दीपोत्सव 2022 में इस बार 15 लाख दीप प्रज्जवलित कर गिनीज वर्ल्ड बुक रिकार्ड बनाया जायेगा। मंगलवार को आयुक्त कार्यालय सभागार में मण्डलायुक्त नवदीप रिणवा की अध्यक्षता में 3 दर्जन से अधिक अधिकारियों के साथ दीपोत्सव मनाये जाने की कार्ययोजना की तैयारी कर गहन विचार किया गया।

अयोध्या (आरएनएस)

उल्लेखनीय है कि उ0प्र0 की वर्तमान लोकप्रिय सरकार द्वारा 2017 में अयोध्या में दीपोत्सव मनाये जाने का कार्यक्रम की शुरूआत की गयी थी जब से लगातार दीपोत्सव मनाया जा रहा है तथा प्रदेश सरकार द्वारा 2019 में इस दीपोत्सव कार्यक्रम को प्रान्तीय स्तर का मेला घोषित किया गया। मण्डलायुक्त ने कहा कि सभी तैयारियां 15 अक्टूबर 2022 तक प्रत्येक दशा में पूर्ण कर ली जाय तथा उन्होंने बताया कि साकेत महाविद्यालय से निकलने वाली 11 झांकियां के अतिरिक्त इस बार रामायण थीम आधारित 5 डिजिटल एवं ऐनीमेटेड झांकियां भी निकाली जायेंगी, जिसमें डिजिटल माध्यम से भगवान श्रीराम जी के जीवन चरित्र को भी दर्शाया जायेगा, इसके लिए अतिरिक्त तैयारियां पूर्ण कर ली जाय। मण्डलायुक्त ने कहा कि दीपोत्सव के अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा 1841 करोड़ की लागत की लगभग 229 परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी तैयारियां समयवार बेहतर तरीके से कर ली जाय तथा सभी विभागों के साथ समन्वय कर कार्यो की माइक्रो प्लानिंग किया जाय, जिससे कि आयोजन के समय किसी भी प्रकार की अव्यवस्था न होने पायें। उन्होंने कहा कि मेला परिसर तथा निकलने वाले शोभायात्रा के रास्ते में लटक रहे तारो को विद्युत विभाग समय से सही करवा दें, जिससे किसी प्रकार की अप्रिय घटना न होने पायें। उन्होंने कहा कि राम की पैड़ी के आसपास लगे सभी वाणिज्यिक प्रचार सामाग्री को तत्काल हटा लिया जाय। मण्डलायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि मेला परिसर में सभी आवश्यक दवाईयां तथा एम्बुलेंस व्यवस्था के साथ साथ पर्याप्त मात्रा में मेडिकल टीम भी तैनात की जाय तथा उन्होंने कहा कि दीपोत्सव परिसर के अलावा शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर भी दीप प्रज्जवलित किये जायें।
बैठक में जिलाधिकारी  नितीश कुमार ने बताया कि इस बार दीपोत्सव 2022 के मंचीय कार्यक्रम में 8 देशों (इण्डोनेशिया, श्रीलंका, मलेशिया, थाईलैंड, रूस, फिजी, ट्रिनिडाड एण्ड टोबैगो व नेपाल) तथा 10 प्रदेशों (उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, ओड़िसा, तमिलनाडु व झारखण्ड) की रामलीला कमेटियां रामकथा पार्क, भजन संध्या स्थल, बड़ी देवकाली, गुप्तारघाट, भरतकुण्ड, रामघाट रेलवे पुल के बगल, राम बाजार अन्तर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय के समीप स्थलों पर रामलीला का मंचन करेंगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशान्त वर्मा ने बताया कि जो पास विभागों द्वारा जारी किया जाय सबका अलग-अलग रंग निर्धारित कर दिया जाय तथा उसमें फोटो आईडी सहित क्रम संख्या दर्ज किया जाय, जिससे दीपोत्सव के समय अतिरिक्त भीड़ पर काबू पाया जा सकें और व्यवस्थाएं सुव्यवस्थित रखी जा सकें। उन्होंने कहा कि यदि कोई पास का दुरूपयोग करता है तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी। बैठक में नगर आयुक्त विशाल सिंह, मुख्य विकास अधिकारी अनिता यादव, पुलिस अधीक्षक नगर मधुबन कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी नगर/मेलाधिकारी सलिल कुमार पटेल, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, अपर नगर आयुक्त शशिभूषण राय, डा. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के नोडल अधिकारी प्रो. अजय प्रताप सिंह सहित अन्य विभाग के अधिकारी/प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Tags :#UPNews #UttarPradesh #Ayodhya #Diwali2022 #Deepotsav2022 #ReviewMeeting #Hindinews #DeepotsavAyodhya2022

राष्ट्रीय न्यूज़ 

Related Articles

Back to top button