नीट पीजी परीक्षा पर सुप्रीम कोर्ट में कल होगी सुनवाई, आइएमए ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से परीक्षा स्थगित करने की

नीट पीजी 2022 परीक्षा टालने की मांग कर रहे उम्मीदवारों के लिए कल, 13 मई 2022 का दिन महत्वपूर्ण हो सकता है। पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट, नीट पीजी 2022 का 21 मई को आयोजन की स्थगित किए जाने की मांग वाली याचिका पर उच्चतम न्यायालय में शुक्रवार को सुनवाई होनी है। राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (पीजी) 2022 के लिए आवेदन किए कई उम्मीदवारों द्वारा दायर इस याचिका पर सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशों न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और पी. एस. नरसिंहा की खण्डपीठ द्वारा सुनवाई की जानी है। याचिका में मांग की गई है कि पिछले वर्ष की परीक्षा के आधार पर काउंसलिंग की प्रक्रिया अभी तक पूरी नहीं हुई है, ऐसे में परीक्षा का आयोजन फिलहाल टालने के आदेश शीर्ष अदालत द्वारा राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड (एनबीई) को दिए जाएं।

IMA ने स्वास्थ्य मंत्री से लगाई परीक्षा टालने की गुहार

दूसरी तरफ, इंडियन मेडिकल एसोशिएशन ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से पत्र लिखकर अपील की है कि नीट पीजी 2022 परीक्षा का 21 मई को आयोजन स्थगित किया जाए। समाचार एजेंसी एएनाई के एक अपडेट के अनुसार, आइएमए द्वारा अपने पत्र में कहा गया है कि वर्ष 2021 की काउंसलिंग और फिर परीक्षा में बेहद कम अंतर होने के चलते 5000 से अधिक मेडिकल इंटर्न अयोग्य हो गए हैं। कई मेडिकल इंटर्न जिन्होंने कोविड वारियर के तौर पर ड्यूटी निभाई वे फाइन एग्जाम में देरी और अपनी इंटर्नशिप पूरी न कर पाने के कारण नीट पीजी 2022 में सम्मिलित नहीं हो पा रहे हैं।

जल्द जारी होंगे नीट पीजी 2022 एडमिट कार्ड

बता दें कि एनबीई द्वारा 21 मई को नीट पीजी 2022 का आयोजन किया जाना है और यदि परीक्षा स्थगित नहीं होती है तो उम्मीदवारों के लिए नीट पीजी एडमिट कार्ड 2022 जल्द ही जारी किए जा सकते हैं। उम्मीदवार नीट पीजी 2022 एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three + 10 =

Back to top button