संचारी रोगों की रोकथाम को ले नगर विकास मंत्री ने की वर्चुअल समीक्षा बैठक 

उत्तर प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने दीपावली त्यौहार के बाद की साफ-सफाई एवं आगामी छठ पर्व के दृष्टिगत की जाने वाली व्यवस्था को लेकर गुरुवार को सुबह 8 बजे से ही अपने कालिदास मार्ग स्थित आवास से सभी नगरीय निकाय के अधिकारियों के साथ वर्चुअल समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने निर्देशित किया कि सभी नगरीय निकायों में साफ-सफाई, बरसात से हुए जलभराव तथा सड़कों और मार्गों में बने गड्ढों, साथ ही मच्छर जनित बीमारियों, डेंगू, चिकनगुनिया एवं संचारी रोग की रोकथाम के लिए एंटी लार्वा दवा का छिड़काव एवं फागिंग आदि कार्य युद्ध स्तर पर कराए जाएं, जिससे लोगों को शीघ्र राहत मिले।

लखनऊ (आरएनएस)

उन्होंने बरसात में मार्गो व सड़कों में हुए गड्ढों को शीघ्र भरने तथा मार्ग प्रकाश व्यवस्था को भी सुचारू करने के निर्देश दिए।नगर विकास मंत्री एके शर्मा ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार जनहित के कार्यों के लिए पूरी तरह से सचेत एवं संकल्पित है। अधिकारियों को भी सरकार की मंशा अनुरूप कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि दीपावली त्यौहार के बाद से कुछ जगहों से साफ-सफाई को लेकर शिकायतें आई हैं, जिसको गंभीरता से लेकर पूर्व की भांति चाक चौबंद सफाई करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने सफाई में किसी भी प्रकार की कोताही व लापरवाही बर्दाश्त नहीं करने को कहा। उन्होंने कहा कि दीपावली त्यौहार में लोग अपने घरों की विधिवत सफाई करते हैं, जिससे बड़ी मात्रा में कूड़ा घरों, दुकानों, प्रतिष्ठानों से निकलता है,जिसका डोर टू डोर कलेक्शन, कूड़ा उठान एवं इसके निस्तारण की पूरी व्यवस्थित तैयारी की जानी चाहिए थी। लेकिन शिकायतें बता रहीं हैं कि सफाई कार्य में ढिलाई बरती गई है। उन्होंने शीघ्र ही युद्धस्तर पर लगकर कूड़े का समुचित निस्तारण कराने तथा कूड़े के ढेर एवं गंदगी शहरों में कहीं पर भी दिखाई न दे ऐसी व्यवस्था करने के निर्देश दिए। कहा कि शहरों में इस दौरान वायु प्रदूषण भी काफी बढ़ जाता है, जिसे कम करने के प्रयास किए जाएं, इसके लिए सड़कों एवं गलियों में पानी का छिड़काव किया जाए।

एके शर्मा ने कहा कि आगामी छठ पर्व पर साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें। कहीं पर भी सफाई का अभाव न दिखे। खासतौर से पूजा स्थलों एवं नदी व तालाबों के घाटों कि बेहतर सफाई सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में छठ पर्व पर व्यापक स्तर पर पूजा होती है, जिस पर महिला श्रद्धालु एवं बच्चे भी भाग लेते हैं। कहीं पर भी अप्रिय घटना न हो, इसके लिए स्थानीय पुलिस प्रशासन से मिलकर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए जाएं। प्रकाश की समुचित व्यवस्था की जाए। श्रद्धालुओं व बच्चों को गहरे पानी में जाने से रोकने के लिए जलधारा में बैरिकेडिंग भी कराई जाए। उन्होंने नदियों एवं पूजा स्थलों पर फूल, माला, फलों व अन्य पूजा सामग्री के जल में प्रवाह को रोकने के लिए जलधारा में ही अर्पण कलश बनाने के लिए भी कहा, जहां पर श्रद्धालु अपनी पूजा सामग्री को श्रद्धा से अर्पित कर सकें और जल भी प्रदूषित न हो। छठ पर्व पर महिलाओं को असुविधा न हो, इसके लिए सभी पूजा स्थलों पर कपड़े बदलने के लिए चेंजिंग रूम बनाए जाएं। साथ ही श्रद्धालुओं के बड़ी संख्या में शामिल होने को लेकर पूजा स्थलों पर मोबाइल टॉयलेट लगाने तथा सामुदायिक शौचालयों की 24 घंटे निरंतर सफाई करने की भी व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

नगर विकास मंत्री ने कहा कि प्रयागराज, लखनऊ, कानपुर, आगरा, बरेली सहित कई अन्य नगरों में से भी डेंगू का प्रकोप बढ़ने की खबरें आ रही हैं। उन्होंने कहा कि बरसात के कारण जहां कहीं पर भी जलभराव की स्थिति बनी हो, उसे शीघ्र ही समाप्त किया जाए जिससे मच्छर जनित बीमारियों, डेंगू, चिकनगुनिया एवं संचारी रोग से प्रभावी ढंग से निपटा जा सके। उन्होंने प्रभावित क्षेत्रों में एंटी लार्वा  एवं चूना का छिड़काव करने तथा व्यवस्थित रूप से फागिंग कराने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शहरों में साफ-सफाई की चुनौती निरंतर बनी रहती है। इस पर लगातार ध्यान देने की जरूरत है। ऐसे स्थानों पर जहां त्योहारों एवं पर्वो पर ज्यादा लोग पहुंचते हैं, उसकी साफ-सफाई का पूर्व में ही सुनियोजित प्लान बनाकर कार्य करें। उन्होंने धार्मिक स्थलों खासतौर से नैमिशआरण्य, चित्रकूट, मां विंध्यवासिनी, वाराणसी, अयोध्या, मथुरा आदि की साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने के भी निर्देश दिए।नगर विकास मंत्री द्वारा की गई वर्चुअल समीक्षा में डायरेक्टर नगरी निकाय नेहा शर्मा और सभी नगर निगमों के नगर आयुक्त, नगर पालिका परिषदो व नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारी जुड़े।

Tags : #UPNews #Uttarpradesh #Lucknow #UrbanDevelopmentMinister #EnergyMinister #AKSharma #Instructions #Hindinews #VirtualReviewMeeting

Rashtriya News 

Related Articles

Back to top button