दिल्ली पुलिस द्वारा ‘माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर’ से बाल यौन शोषण सामग्री प्रसारित करने वाले खातों का विवरण मांगा गया।

ट्विटर जैसी कंपनियों को अब कानूनी अनुरोधों पर कानून प्रवर्तन और सरकार के साथ संपर्क करने के लिए एक मुख्य अनुपालन अधिकारी, एक शिकायत अधिकारी और एक अन्य कार्यकारी नियुक्त करना होगा। लिंक्डइन की जॉब पोस्टिंग से ये पता चला कि ट्विटर पर तीन पद खुले हैं।

image by google

समाचार एजेंसी ANI ने बताया कि दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर से बाल यौन शोषण सामग्री प्रसारित करने वाले खातों का विवरण मांगा है। दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को अपने मंच पर “बाल यौन शोषण और बाल अश्लील सामग्री की उपलब्धता” के लिए मामला दर्ज किया था। यह मामला तब दर्ज किया गया था जब राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने पुलिस को लिखा था कि उसे एक नाबालिग लड़की के खिलाफ ऑनलाइन धमकियों के बारे में शिकायत मिली है और उसे ट्विटर पर अश्लील सामग्री मिली है। पुलिस ने जांच शुरू कर दी। इस बीच, ट्विटर ने कहा कि बाल यौन शोषण के लिए उसकी जीरो टॉलरेंस की नीति है।

आपको बता दे ट्विटर पहले से ही भारत के गलत नक्शे को प्रदर्शित करने के मामले का सामना कर रही है, जिसमें लद्दाख और जम्मू-कश्मीर को एक अलग देश के रूप में दिखाया गया था। मामला दर्ज होने के बाद कंपनी की वेबसाइट से इस नक्शे को तुरंत हटा लिया गया था।

ट्विटर जैसी कंपनियों को अब कानूनी अनुरोधों पर कानून प्रवर्तन और सरकार के साथ संपर्क करने के लिए एक मुख्य अनुपालन अधिकारी, एक शिकायत अधिकारी और एक अन्य कार्यकारी नियुक्त करना होगा। लिंक्डइन की जॉब पोस्टिंग से ये पता चला कि ट्विटर पर तीन पद खुले हैं।

उन नियमों का पालन न करने का मतलब है कि ट्विटर अब भारत में कानूनी विशेषाधिकार का आनंद नहीं ले सकता है,। ट्विटर ने भारत में अपने कर्मचारियों की सुरक्षा के बारे में चिंता जताई है और पुलिस द्वारा डराने-धमकाने को हरी झंडी दिखाई है।

देश और विदेश की ताज़ातरीन खबरों को देखने के लिए हमारे चैनल को like और Subscribe कीजिए
Youtube- https://www.youtube.com/NEXTINDIATIME
Facebook: https://www.facebook.com/Nextindiatimes
Twitter- https://twitter.com/NEXTINDIATIMES
Instagram- https://instagram.com/nextindiatimes
हमारी वेबसाइट है- https://nextindiatimes.com
Google play store पर हमारा न्यूज एप्लीकेशन भी मौजूद है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − 15 =

Back to top button