मानसिक और शारीरिक तौर पर बीमार करता हैं तनाव, इन तरीकों से करें स्ट्रेस को कंट्रोल

वर्तमान समय की जीवनशैली में काम के दबाव और अव्यवस्थित दिनचर्या की वजह से तनाव अर्थात स्ट्रेस भी जिंदगी का हिस्सा बन जाता हैं। हर किसी की जिंदगी में तनाव होता ही हैं, लेकिन बस इसे संभालने का सभी का अपना तरीका होता हैं। तनाव को हावी होने देना आपको मानसिक और शारीरिक तौर पर बीमार बना सकता हैं। अगर तनाव ज्यादा बढ़ जाए तो आप डिप्रेशन के साथ ही कई अन्य बीमारियों का शिकार हो सकते हैं। अगर कुछ नहीं किया तो यह तनाव हार्ट अटैक, स्ट्रोक या अवसाद जैसे किसी भी गंभीर खतरे को आमंत्रण दे सकता है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि किन तरीकों को अपनाकर आप मानसिक तनाव को कम कर सकते है।

आइये जानते हैं इनके बारे में…
एक्सरसाइज को करें शामिल
एक्सरसाइज और अन्य फिजिकल एक्टिविटी आपकी नींद को बेहतर बनाने में मदद कर सकती हैं। इससे तनाव को बेहतर तरीके से मैनेज किया जा सकता है। कई स्टडी में यह बात सामने आ चुकी है कि हर दिन एक्सरसाइज करना मेंटल हेल्थ के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इससे स्ट्रेस को कम करने में मदद मिलती है। रनिंग, स्विमिंग, साइकलिंग, डांसिंग से तनाव को काफी हद तक कम किया जा सकता है।
ध्यान करें
गाइडेड मेडिटेशन दैनिक जीवन के तनाव से खुद को दूर करने का एक शानदार तरीका है। इंटरनेट पर कई गाइडेड मेडिटेशन ट्यूटोरियल उपलब्ध हैं, जो आपको ध्यान करने में मदद करेंगे और मानसिक तनाव से कुछ राहत दिलाएंगे।
सोशल नेटवर्क को मजबूत बनाएं
अपने स्कूल फ्रेंड्स से लेकर दफ्तर के साथियों के साथ संपर्क में रहें। इसके अतिरिक्त किसी संगठन में शामिल होकर या किसी तरह से सहायता कर अपना सोशल नेटवर्क बनाएं जिससे जरूरत पर लोग आपका साथ दें और आपकी समस्या सुनें।
आपका खानपान रखें बेहतर
खान-पान का स्ट्रेस पर काफी असर पड़ता है। हेल्दी डाइट लेने से तनाव के प्रभाव को कम किया जा सकता है। हेल्दी डाइट से इम्यूनिटी मजबूत होती है और मूड बेहतर होता है। तनाव को कम करने के लिए विटामिन सी, मैग्नीशियन और ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर पदार्थ डाइट में शामिल करने चाहिए।
वक्त मिलने पर अपनी स्किल को निखारें
अगर आपके व्यक्तित्व में कुछ स्किल है तो खाली समय मिलने पर उसे निखारने की कोशिश करें। कुछ लोग काफी क्रिएटिव होते हैं लेकिन तमाम दफा वे अपना पूरा वक्त टेंशन में जाया कर देते है, बेहतर होगा वे खुद को अपने पसंदीदा काम में बिजी रखें। जितना अधिक कुशलता से आप अपने काम और परिवार की मांगों को जोड़ सकते हैं, आपके तनाव का स्तर उतना ही कम होगा।
डीप ब्रीदिंग करें
डीप ब्रीदिंग करना तंत्रिका तंत्र की सक्रियता को कम करने का एक शानदार तरीका है, जो शरीर की प्रतिक्रिया को नियंत्रित करता है। पांच सेकंड के लिए भी की गई डीप ब्रीदिंग आपके पैरासिम्पेथेटिक तंत्रिका तंत्र को सक्रिय करने में मदद कर सकती हैं। यह आपके समग्र तनाव और चिंता को कम करने में मदद करती है।
पूरी नींद लें
तनाव का एक साइड इफेक्ट यह है कि आपको नींद नहीं आती। नींद की कमी आपके तनाव के स्तर को भी बढ़ा सकती है। इसलिए हर किसी को हर दिन 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए। अच्छी नींद में आपके बेडरूम की भूमिका भी महत्वपूर्ण है। सामान्य तौर पर आपका कमरा शांत और ठंडा होना चाहिए। आपका बिस्तर साफ और आरामदायक होना चाहिए। देर रात तक जागना तनाव के लेवल को बिगाड़ सकता है। इसलिए आपको सोने का समय फिक्स करना चाहिए।

Tags : #Healthnews #Health #Tips #MentalStress #MentalHealth #MentalMangement #Hindinews #Latestnews

Rashtriya News 

Related Articles

Back to top button