लखनऊ जिला जेल के कैदियों को बांटे गर्म कपड़े

जिला जेल में गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर एपीसीआर का कार्यक्रम

एसोसिएशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ सिविल राइट्स (ए पी सी आर) जो कि गरीब और पिछड़े लोगों की कानूनी सहायता और मार्गदर्शन, गरीबों के लिए कानूनी सुरक्षा, अन्याय के शिकार लोगों के लिए कानूनी रक्षा और देश व समाज से अन्याय और अत्याचार के अंत के लिए प्रयासरत है, वहीँ एसोसिएशन विभिन्न जेलों में बंद कैदियों की बुनियादी जरूरतों का भी ध्यान रखती है।


इस संबंध में गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर एपीसीआर ने लखनऊ जिला जेल में 102 जरूरतमंद बंदियों के बीच गर्म कपड़े बांटे. इस अवसर पर एपीसीआर के सचिव एडवोकेट नज्मुस्साकिब खान ने कहा कि ऐसे माहौल में जहां समाज के किसी व्यक्ति द्वारा किए गए किसी भी अपराध के लिए समाज और उसके परिवार के सदस्य उससे अलग हो जाते हैं एपीसीआर की कोशिश होती है कि इन बंदियों की बुनियादी जरूरतों को पूरा किया जाए।


एपीसीआर के कोऑर्डिनेटर शान ए इलाही ने कहा कि इस से पूर्व में भी एपीसीआर विभिन्न जेलों में गर्म कपड़े और कंबल बांटता रहा है और विभिन्न त्योहारों के अवसर पर भी कैदियों के बीच मिठाई आदि बांटी जाती है।
इस अवसर पर लखनऊ जिला जेल के जेलर अजय राय, डिप्टी जेलर देव दर्शन सिंह, एडवोकेट नज्मुस्साकिब खान सचिव एपीसीआर, कोऑर्डिनेटर शान ए इलाही, एडवोकेट मुहम्मद आसिफ अकरम उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × three =

Back to top button