एलआईसी अभिकर्ताओ ने सरकार को दी आन्दोलन की चेतावनी

भारत सरकार कई असफल नीतियों को देश की आवाम पर जबरिया थोपने का काम कर रही है। इसके विरोध में कभी किसानों द्वारा सड़क पर उतरकर आंदोलन करने के बाद किसान बिल जैसे सरकार को अपनी बहू प्रतिष्ठित नीति समाप्त करने के लिए किसानों के सामने घुटने टेकने को मजबूर होना पड़ा था।

लखनऊ (आरएनएस)

जिससे सरकार की प्रतिष्ठा भी धूमिल हुई जिसका अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी मजाक बनाया गया।
सरकार के ऐसे बहुत से फैसले रहे जिस पर न्यायपालिकाओं को भी कई टिप्पणी करनी पड़ी। वहीं पूर्व की तरह सरकार बेपरवाही का अनुसरण करते हुए देश की सबसे अमीर व प्रतिष्ठित संस्था भारतीय जीवन बीमा निगम की रीढ़ तोड़ने पर आमादा नजर आ रही है। जिसके विरोध में इस संस्था को बचाने के लिए भारत का 1300000 अभिकर्ता शुक्रवार को हड़ताल कर भारत सरकार व उसके अधीनस्थ बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकरण के विरुद्ध कड़ा विरोध दर्ज कराया। जिसमें आज के दिन ना तो एलआईसी के कैश काउंटर पर प्रीमियम जमा हुआ, ना नए बीमें हुए, ना ही अन्य प्रीमियम पॉइंट पर कोई प्रीमियम जमा हुआ। भारतीय जीवन बीमा निगम सहित अन्य सभी इंश्योरेंस कंपनियों को बीमा विनियामक व विकास प्राधिकरण समय-समय पर दिशा निर्देश जारी करती रहती है। इसी कड़ी में संस्था कई ऐसे नए-नए नियम लाने के प्रयास में है जिससे भारत के एलआईसी में कार्यरत लगभग 13,00000 अभिकर्ताओं के कैरियर पर ग्रहण लगने जैसे हालता है। इससे आशंकित भारतीय जीवन बीमा निगम में कार्यरत पूरे देश के सभी अभिकर्ताओं ने सरकार की नीतियों के खिलाफ कठोर कदम उठाने का फैसला लिया है और तय किया है कि जब तक सरकार इस काले कानूनों को वापस नहीं लेती है तब तक इस संगठन का विरोध प्रदर्शन समय-समय पर जारी रहेगा।

Tags : #UPNews #UttarPradesh #Lucknow #LIC #LIC_Workers #InsuranceAgents #Strike #Demands #Hindinews

राष्ट्रीय न्यूज़

Related Articles

Back to top button