जानें एसएमएस के जरिए कैसे पता करें फास्टैग का बैलेंस?

एसबीआई के ग्राहक आसानी से केवल एक एसएमएस के जरिए अपने फास्टैग का बैलेंस पता कर सकते हैं। इसके लिए ग्राहकों को एसबीआई की ओर से जारी किए गए आधिकारिक नंबर 7208820019 पर FTBAL लिखकर एसएमएस भेजना होगा।

 देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों के लिए एसएमएस के जरिए फास्टैग का बैलेंस पता करने की सुविधा को शुरू किया है। इसके जरिए ग्राहक आसानी से घर बैठे ही मोबाइल के एक एसएमएस के जरिए अपने फास्टैग का बैलेंस पता कर सकते हैं।

फास्टैग रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटीफिकेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग करता है, जिसकी मदद से आपको सफर करते समय कैश ले जाने की जरूरत नहीं होती है और आपके सभी टोल पेमेंट फास्टैग के जरिए सेविंग अकाउंट से कट जाते हैं। फास्टैग से टोल का पेमेंट करने के लिए किसी भी व्यक्ति को फास्टैग अपने कार की विंडस्क्रीन पर लगाना होता है और जैसे ही टोल आता है आपके अकाउंट से अपने आप ही पैसा कट जाता है।

पता करें फास्टैग का बैलेंस?

एसबीआई की ओर से किए गए ट्वीट के मुताबिक, फास्टैग का बैलेंस पता करने के लिए ग्राहकों को बैंक के आधिकारिक नंबर 7208820019 पर FTBAL लिखकर एसएमएस करना होगा। वहीं, अगर आपके पास कई सारे वाहन हैं, तो आपको FTBAL के बाद स्पेस देकर अपनी वाहन संख्या दर्ज कर एसएमएस भेजना होगा। इसके कुछ देर बाद आपके मोबाइल पर एक एसएमएस आएगा, जिसमें आपके आप फास्टैग का बैलेंस दिया होगा। यहां यह ध्यान रखना है कि एसएमएस आप केवल उसी मोबाइल नंबर कर सकते हैं, जो आपके बैंक अकाउंट में रजिस्टर्ड है।

फास्टैग है जरूरी

फास्टैग को केंद्र सरकार की ओर से सड़क पर ट्रैफिक कम करने, ईंधन की बचत करने और प्रदूषण को घटाने के उद्देश्य से लांच किया था, इसके जरिए सरकार की कोशिश है कि टोल पर लगने वाली लंबी गाड़ियों की कतार को कम किया जाए। इसके लिए सरकार ने सेंट्रल मोटर व्हीकल रूल्स (CMVR) 1989 में भी बदलाव किया है, जिसके बाद इसे 1 जनवरी, 2021 के बाद एम और एन क्लास की सभी गाड़ियों पर लगाना जरूरी कर दिया गया है।

Related Articles

Back to top button