जानिए इस सप्ताह इन बातों पर निर्भर करेगी शेयर बाजार की चाल, एक्सपर्ट की राय

उतार-चढ़ाव से गुजरता हुआ बीते सप्ताह गिरावट की मार झेल चुके शेयर बाजार पर बढ़ती महंगाई और विकास के बीच संतुलन स्थापित करने के उद्देश्य से अमेरिकी फेड रिजर्व ओपन मार्केट कमेटी (एफओएमसी) के रुख एवं वैश्विक स्तर पर जारी होने वाले पीएमआई का अगले सप्ताह बाजार पर असर रहेगा। बीते सप्ताह बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 136.28 अंक उतरकर सप्ताहांत पर 57060.87 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 69.4 अंक फिसलकर 17102.55 अंक पर रहा।

 स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट के शोध-प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, ”अमेरिकी बाजार में तेज गिरावट के बाद इस सप्ताह बाजारों की शुरुआत सुस्त रहने की संभावना है। निवेशकों का ध्यान फिर अमेरिका में एफओएमसी बैठक के नतीजों पर रहेगा। एफओएमसी की बैठक बुधवार हो होनी और भारतीय बाजार बृहस्पतिवार को इसपर प्रतिक्रिया देगा। उन्होंने कहा, ”इस सप्ताह बाजार पर वैश्विक संकेतक हावी रहेंगे क्योंकि एफओएमसी बैठक के अलावा बैंक ऑफ इंग्लैंड (बीओई) भी ब्याज दर पर निर्णय लेगा। साथ ही अमेरिका के रोजगार के आंकड़े और वैश्विक स्तर पर पीएमआई आंकड़े भी इसी सप्ताह आने हैं।”

उन्होंने कहा कि इस सप्ताह वाहन बिक्री के मासिक आंकड़ों के अलावा रिलायंस, ब्रिटानिया, एचडीएफसी लिमिटेड, अडाणी एंटरप्राइजेज, हीरो मोटोकॉर्प, टाटा स्टील, टाइटन, कोटक महिंद्रा बैंक और टाटा पावर जैसी बड़ी कंपनियों के चौथी तिमाही के परिणाम भी आने हैं। रेलिगेयर ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष-शोध अजित मिश्रा ने कहा, ”यह सप्ताह छुट्टियों की वजह से कम कारोबारी दिवसों का होगा। सप्ताह के दौरान कई महत्वपूर्ण घटनाक्रम और आंकड़े आने जा रहे हैं। बाजार के निवेशक सबसे पहले वाहन बिक्री के आंकड़ों पर प्रतिक्रिया देंगे।” मिश्रा ने कहा, ”वृहद मोर्चे पर विनिर्माण पीएमआई तथा सेवा पीएमआई के आंकड़े क्रमश: दो मई और पांच मई को आएंगे। जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का बहुप्रतीक्षित आईपीओ चार मई को खुलेगा। वैश्विक मोर्चे पर सभी की निगाह अमेरिकी केंद्रीय बैंक के बैठक के नतीजों पर रहेगी।” 

देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी एलआईसी ने गत बुधवार को अपने 21,000 करोड़ रुपये के आईपीओ के लिए मूल्य दायरा 902-949 रुपये प्रति शेयर निर्धारित किया। कंपनी का आईपीओ चार मई को खुलेगा। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 136.28 अंक या 0.23 प्रतिशत नीचे आ गया। सैमको सिक्योरिटीज में इक्विटी शोध प्रमुख येशा शाह ने कहा, ”वैश्विक स्तर पर एफओएमसी बैठक चर्चा में होगी। इस बैठक में किसी भी ‘आश्चर्यजनक’ फैसले से वैश्विक बाजारों में घबराहटपूर्ण प्रतिक्रिया हो सकती है।” मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि एलआईसी का बड़ा आईपीओ चार मई को खुलेगा। इससे बाजार से निकासी हो सकती है और कुछ समय के लिए बिकवाली दबाव देखने को मिल सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

six + eleven =

Back to top button