जानिए कैसे पुलिस अफसर थानों को गोद लेकर बदलेंगे उनका हुलिया, शिकायतकर्ताओं की सुविधा का रखा जाएगा ख्‍याल

पुलिस थाने के नाम मन में आते ही अजीब सी छवि बनती है। वहां न बैठने की ठीक से व्‍यवस्‍था और न ही पेयजल आदि की सुविधा। भवन भी वही पारंपरिक। हालांकि अब ऐसा नहीं होगा। पुलिस थानों की सारी व्यवस्थाएं चाक चौबंद नजर आएंगी। वहां की खूबसूरती, साफ-सफाई और फरियाद करने आने वाले लोगों की सुविधा का भी ख्‍याल रखा जाएगा। जी हां, यह सब्‍जबाग नहीं बल्कि हकीकत है। इन सब की प्‍लानिंग प्रतापगढ़ में की जा रही है और शीघ्र ही ऐसा नजर भी आएगा।

शासन की अनोखी पहल : प्रदेश सरकार ने अनोखी पहल की है। सीओ से लेकर एसपी स्‍तर तक के सभी अफसर एक-एक थाने को गोद लेंगे। उनकी यह जिम्मेदारी होगी कि अपने संसाधन व जन सहयोग से थानों को खूबसूरत बनाने के साथ ही वहां आंगतुकों के बैठने व पेयजल की व्यवस्था भी कराएंगे।

आगंतुकों की सुविधा की थानों में होगी व्‍यवस्‍था : सूबे के कई थानों में साफ-सफाई सहित अन्य व्यवस्थाएं खराब पाने पर शासन ने निर्णय लिया कि पुलिस के सभी राजपत्रित अधिकारी एक-एक थाने गोद लेंगे और वहां अपने संसाधन व जन सहयोग से आगंतुकों के बैठने के लिए व्यवस्था कराएंगे। उनके लिए पेयजल व प्रसाधन की व्यवस्था करेंगे। थानों का रंग रोगन कराने के साथ ही सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराएंगे और थाना परिसर में पौधारोपण भी कराएंगे। इसके अलावा फरियादियों की शिकायतों के साथ ही लंबित विवेचनाओं का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराएंगे।

प्रतापगढ़ में 21 पुलिस थाना है : प्रतापगढ़ जिले में महिला थाना सहित 21 थाने हैं। एसपी ने कंधई थाना, एएसपी पूर्वी सुरेंद्र प्रताप सिंह ने अंतू व एएसपी पश्चिमी रोहित मिश्रा ने कुंडा कोतवाली को गोद लिया है। इसी के तहत सीओ सिटी, सीओ सदर, सीओ लालगंज, सीओ पट्टी, सीओ रानीगंज, सीओ कुंडा, सीओ लाइन व सीओ कुंडा ने भी एक-एक थाना गोद लिया है। शासन की मंशा है कि सरकार के 100 दिन पूरे होने पर सभी थाना लकदक दिखे और वहां की व्यवस्था भी चाक चौबंद रहे।

बोले, प्रतापगढ़ के एसपी : एसपी सतपाल अंतिल ने कहा कि थानों में सारी व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए सभी राज पत्रित अधिकारियों ने एक-एक थाना गोद लिया है। थाना परिसर साफ सुथरा दिखे और वहां जन सुनवाई सहित विवेचनाओं का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने का निर्देश दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three × five =

Back to top button