सिखों पर टिप्पणी कर घिरीं किरण बेदी, विवाद छिडऩे पर मांग ली माफी, कहा- मंशा गलत न समझें

पूर्व आईपीएस और पुदुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी सिखों को लेकर की गई एक मजाकिया टिप्पणी पर घिर गई हैं। यही नहीं विवाद बढऩे पर एलजी किरण बेदी ने इस मसले पर माफी भी मांग ली है। दरअसल सोमवार को चेन्नै में एक पुस्तक के विमोचन के दौरान किरण बेदी ने 12 बजे वाला एक जोक सिखों को लेकर बोला था। उनकी इस टिप्पणी वाला वीडियो तेजी से वायरल हो गया। यही नहीं पंजाब की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी ने इस मुद्दे को हाथोंहाथ लपक लिया और किरण बेदी पर हमला बोला। आप ने कहा कि किरण बेदी की यह टिप्पणी सिखों का मजाक उड़ाने जैसा है और यह शर्मिंदा करने वाली बात है।

आम आदमी पार्टी के पंजाब प्रभारी जरनैल सिंह ने ट्वीट किया, मुगल जब इस देश को लूट रहे थे। महिलाओं का अपहरण कर रहे थे, तब सिखों ने उनसे लड़ाई लड़ी थी। बहनों और बेटियों को बचाने का काम किया था। 12 बजे का वक्त मुगलों पर हमला करने का था। यह हमारा इतिहास है। ऐसे नेताओं पर शर्म आती है, जो सिखों का मजाक बनाते हैं। यही नहीं उन्होंने इस टिप्पणी को लेकर किरण बेदी से माफी मांगने की भी मांग की। पंजाब में आप के मुख्य प्रवक्ता मालविंदर सिंह कांग ने कहा कि मुझे किरण बेदी पर तरस आता है। यदि उन्हें सिख इतिहास के बारे में कोई जानकारी नहीं है।
हालांकि विवाद को बढ़ता देख किरण बेदी ने माफी मांग ली है। उन्होंने कहा कि मैं सिख समुदाय का बहुत सम्मान करती हूं। मैं गुरु नानक देव जी की भक्त हूं। मैंने जो कुछ भी कहा था, उसे गलत तरीके से न समझा जाए। मैं माफी मांगती हूं। मैं सेवा और दयालुता में यकीन रखती हूं। कृपया मेरी मंशा पर किसी भी तरह का संदेह न रखें। बता दें कि किरण बेदी दिल्ली का विधानसभा चुनाव भी लड़ चुकी हैं और भाजपा ने उन्हें सीएम कैंडिडेट बनाया था। महिला आईपीएस अधिकारी के तौर पर चर्चित रहीं किरण बेदी फिलहाल पुदुचेरी की राज्यपाल हैं।

Rashtriya News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 − three =

Back to top button