कर्नाटक में 14 वर्षीय दलित बच्चे को पीटने के आरोप में 10 लोगों पर मामला हुआ दर्ज

कर्नाटक में कल 1 अक्टूबर को एक दलित बच्चे के साथ मारपीट का मामला सामने आया था। राज्य के चिक्कबल्लापुर जिले में 14 वर्षीय दलित बच्चे को खंभे से बांधकर पीटा गया था। बच्चे के साथ पिटाई करने के कथित अमानवीय कृत्य के मामले में दस लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के अनुसार घटना चिंतामणि ग्रामीण पुलिस स्टेशन की सीमा में हुई है।

मामले को लेकर राज्य पुलिस ने कहा कि, चिक्कबल्लापुर जिले में एक 14 वर्षीय दलित लड़के पर चोरी का शक करने के बाद उसे कथित तौर पर बांधने और उसकी पिटाई करने के आरोप में 10 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल लड़के का स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है।

चोरी के शक में की मारपीट

बता दें कि आरोपी ने कथित तौर पर दलित लड़के पर चोरी का शक करते हुए उसके साथ मारपीट की थी। केम्पडेनहल्ली निवासी यशवंत अपनी उम्र के अन्य लड़कों और लड़कियों के साथ खेल रहा था। आरोप था कि यशवंत ने ऊंची जाति की एक लड़की के सोने के झुमके चुरा लिए थे। यशवंत पर शक करते हुए दूसरे बच्चों ने पीड़ित लड़के को घसीटा और बिजली के खंभे से बांधकर उसकी पिटाई कर दी।

मां को भी पीटा गया

मामला तब गहरा गया जब बेटे को बचाने दौड़कर आई उसकी मां को भी पीटा गया। घायल यशवंत और उसकी मां को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना गुरुवार को हुई थी। चिंतामणि ग्रामीण पुलिस ने पीड़ित लड़के और उसकी मां के बयान दर्ज कर लिए हैं। पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और मामले में जांच की जा रही है।

भगवान की मूर्ति छूने पर भी हुई थी मारपीट

बता दें कि दलित परिवार के उत्पीड़न का मामला पहला भी सामने आया था। कुछ समय पहले चिक्कबल्लापुर जिले में भगवान की मूर्ति को छूने के लिए एक दलित लड़के से मारपीट कर दी गई थी। इसके साथ ही उसके परिवार पर 60,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया था। लड़के के परिवार का बहिष्कार भी किया गया और सरकारी एजेंसियों के हस्तक्षेप के बाद इस मुद्दे को सुलझाया गया था।

Related Articles

Back to top button