गोवर्धन की सप्तकोसी परिक्रमा में बिखर रही होली की अद्भुत छटा

होली मनाने देश विदेश से हजारों की संख्या में गोवर्धन पहुंच रहे श्रद्धालु

गोवर्धन की सप्तकोसी परिक्रमा में बिखर रही होली की अद्भुत छटा
होली मनाने देश विदेश से हजारों की संख्या में गोवर्धन पहुंच रहे श्रद्धालु
गिरिराज तहलहटी इस समय मिनी भारत का नजारा पेश कर रही है। कोरोना के प्रतिबंध शिथिल होने के बाद देश विदेश से बडी संख्या में श्रद्धालु बडी संख्या में अपने आराध्य के सथ होली मनाने के लिए पहुंच रहे हैं। देश विदेश से आ रहीं श्रद्धालुओं की ये टोलियां अद्भुत दृश्य पैदा कर रही हैं। अलग अलग बोली, अलग अलग भाषा और परिधानों में होली खेलते ये टोलियां ब्रज में होली का अलग ही अंदाज पैदा कर रही हैं। वहीं प्रशासन की ओर से भी होली पर समुचित व्यवस्था की गई है। किसी भी श्रद्धालु को कोई परेशानी न हो इसके व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पार्किंग से लेकर साफ सफाई तक का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इससे भी यहां आ रहे श्रद्धालु खुश नजर आए। ऐसे श्रद्धालुओं की संख्या भी बहुतायत में है जो वर्षों से लगातर ब्रज में आकर होली मना रहे हैं। इंदौर से आए महेश कालरा ने बताया कि वह पिछले सात साल से यहां आकर होली मना रहे हैं। यहां व्यवस्थाएं बहुत अच्छी है। बहुत सहयोग मिलता है बहुत आनंद आता है। यहां आकर दुनियांदारी को भूल जाते हैं। मध्यप्रदेश से आए माही लाल अग्रवाल ने कहा वह पिछले दस साल से आ रहे हैं। ठाकुर जी के साथ होली खेलकर मन को आनंद प्रप्त होता है। सप्तकोसीय परिक्रमा मार्ग में देवास से सैकडों की संख्या आए श्रद्धालु भक्तों ने गिरिराज जी के साथ होली खेली। वहीं ढोल नगाड़ों की धुन पर नाचते गाते और होली का आनंद लिया। गोवर्धन में इस समय दिल्ली, हरियाणा, एमपी, राजस्थान, गुजरात सहित दूसरे प्रदेशों के श्रद्धालु भी दिख रहे हैं। विदेश से आने वाले पर्यटकों की संख्या भी बढ गई है।

Related Articles

Back to top button