वैश्विक रेटिंग एजेंसी एस एंड पी ग्‍लोबल ने कहा-भारत के पास पर्याप्‍त है विदेशी मुद्रा भंडार

रेटिंग एजेंसी एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स (S&P Global Ratings) ने गुरुवार को कहा कि भारत के पास पर्याप्त विदेशी मुद्रा भंडार (Forex Reserve) है। इसकी बदौलत वह ऋण संबंधी दबाव बर्दाश्त करने में सक्षम है। एसएंडपी सावरेन एंड इंटरनेशनल पब्लिक फाइनेंस रेटिंग्स के निदेशक एंड्रयू वुड ने वेबगोष्ठी – इंडिया क्रेडिट स्पाटलाइट-2022 में कहा कि देश का बाहरी बही-खाता मजबूत है और विदेशी कर्ज सीमित है। इसलिए कर्ज चुकाना बहुत अधिक महंगा नहीं है।

वुड ने कहा कि हम आज जिन चक्रीय कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं, भारत ने उनके खिलाफ बफर का निर्माण किया है। रेटिंग एजेंसी को नहीं लगता है कि निकट अवधि के दबावों का भारत की साख पर गंभीर असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हम चालू वित्त वर्ष में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में 7.3 प्रतिशत की वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं। अमेरिकी डालर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर की गति मध्यम रही है। 12 अगस्त को समाप्त हुए सप्ताह में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 570.74 अरब डालर था।

कर्ज लेकर अधिग्रहण से अदाणी समूह की रेटिंग पर दबाव संभव

एसएंडपी ग्लोबल रेटिंग्स ने कहा कि अदाणी समूह (Adani Group) के पास काफी ठोस बुनियादी ढांचा है, लेकिन कर्ज लेकर अधिग्रहण करने से उसकी रेटिंग पर दबाव पड़ सकता है। गौतम अदाणी के नेतृत्व वाले अदाणी समूह ने अधिग्रहण के जरिये तेजी से वृद्धि की है। अदाणी समूह ने 1988 में एक जिंस कारोबारी के रूप में शुरुआत की थी और आज उसके कारोबारी साम्राज्य में खदान, बंदरगाह और बिजली संयंत्रों से लेकर हवाईअड्डे, डेटा केंद्र और रक्षा क्षेत्र शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button