भारत जोड़ो यात्रा : कर्नाटक में बहिष्कृत दलित परिवार से मिले राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कोलार जिले के उल्लेरहल्ली गांव में एक दलित परिवार से मुलाकात की। बता दें कि इस दलित परिवार का उनके बेटे द्वारा भगवान की मूर्ति से जुड़े एक खंभे को छूने के बाद बहिष्कार कर दिया गया था। परिवार के साथ बातचीत करते हुए, राहुल गांधी ने अस्पृश्यता के नाम पर हुए अन्याय पर अपनी चिंता व्यक्त की।

राष्ट्रीय (आरएनएस)

परिवार को तुमकुरु जिले में आमंत्रित किया गया, जहां गांधी कोलार से पदयात्रा का नेतृत्व कर रहे हैं। कर्नाटक पुलिस ने लड़के के परिवार पर 60,000 रुपये का जुर्माना लगाने के आरोप में 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना आठ सितंबर को कोलार जिले के मलूर कस्बे के निकट उल्लेरहल्ली गांव की है। इस घटना के बाद गांव के बुजुर्गों ने लड़के की मां से कहा कि वह जुलूस के पुनर्गठन के लिए 60,000 रुपये की व्यवस्था करें, क्योंकि उसके बेटे ने देवता के पवित्र खंभे को छुआ था। उन्होंने यह भी धमकी दी कि जुर्माना नहीं भरने पर उनके परिवार का बहिष्कार कर दिया जाएगा।
शुरूआत में अधिकारियों ने इस घटना पर आंखें मूंद लीं, लेकिन मामले पर विवाद बढऩे पर प्रशासन बाद में हरकत में आया। उन्होंने मंदिर का ताला तोड़ा और दलित परिवारों को देवता के दर्शन की अनुमति दी और परिवार के लिए सरकारी जमीन देने का भी वादा किया। सोमवार सुबह 33वें दिन में प्रवेश करने वाली भारत जोड़ो यात्रा तुमकुरु जिले के पोचकट्टे से फिर से शुरू हुई। यह यात्रा चामराजनगर, मैसूर, मांड्या और तुमकुरु जिलों को कवर करते हुए चित्रदुर्ग जिले में प्रवेश करेगी। पदयात्रा कड़ी सुरक्षा के बीच चित्रदुर्ग जिले के हिरियुरु, चल्लकेरे और मोलाकलमुरु शहरों को कवर करेगी।
पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में, 7 डीएसपी, 29 पुलिस निरीक्षक, 89 पीएसआई, कर्नाटक राज्य रिजर्व पुलिस (केएसआरपी) के 9 प्लाटून और जिला रिजर्व पुलिस (डीएआर) के 7 प्लाटून को तैनात किया गया है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि राहुल गांधी की पदयात्रा के दौरान कोई अप्रिय घटना न हो। चित्रदुर्ग जिले में राजमार्गों पर वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया है और वैकल्पिक व्यवस्था की गई है।

Tags : #Politicsnews #Politics #Congress #BharatJodoYatra #RahulGandhi #DalitFamily #Karnataka #Hindinews #latestnews

राष्ट्रीय न्यूज़

Related Articles

Back to top button