वाराणसी में सीएम योगी ने जंगमबाड़ी मठ में संतों को किया संबोधित,अयोध्या में सभी पंथ व संप्रदायों को आवंटित होगी भूमि

 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयास से श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का नव्य भव्य स्वरूप सामने आया और काशी की गरिमा पूरे विश्व पटल पर स्थापित हुई है। आज प्रतिदिन देश भर से हजारों श्रद्धालु काशी आ रहे हैं। अयोध्या भी जा रहे हैं। आने वाले दिनों में श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए हर पंथ और संप्रदाय के अनुयायियों को अयोध्या में धर्मशाला आदि स्थापित करने के लिए भूमि का आवंटन किया जाएगा। इसके लिए सरकार की तरफ से योजना बनाई जा रही है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को जगद्गुरु विश्वाराध्य ज्ञान सिंहासन महापीठ जंगमबाड़ी मठ में 87वें पीठाधीश्वर के रूप में डा. मल्लिकार्जुन शिवाचार्य स्वामी के पट्टाभिषेक महोत्सव को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पूरा देश प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में नई उर्जा के साथ विकास की नवीन ऊंचाई के साथ आगे बढ़ रहा है। राष्ट्र जब सशक्त होता है तो धर्म भी सशक्त होता है। हर पंथ संप्रदाय का सम्मान बढ़ता है। राष्ट्र की इकाई जब कमजोर होती है तो धर्म के सामने अपने अस्तित्व का संकट आ खड़ा होता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में आज भारत मजबूती के साथ दुनिया के सामने एक भारत-सशक्त व समर्थ भारत के रूप में स्थापित होता दिखाई दे रहा है। इसे साकार करने के लिए हमें स्वयं भी श्रेष्ठ भारत के साथ जुड़ना होगा। मत, पंथ, संप्रदाय हमारी अपनी-अपनी भावना है। सभी का सम्मान होना चाहिए। देश में सभी का सम्मान देखने को मिल भी रहा है। इसी क्रम में हमारी ऋषि परंपरा के योग को पूरी दुनिया ने अपनाया है। यह देश की 135 करोड़ जनता का सम्मान है। उन्होंने 87वें उत्तराधिकारी डा. मल्लिकार्जुन शिवाचार्य स्वामी को चादर ओढ़ा कर अभिनंदन किया।

jagran

अध्यक्षता करते हुए जगद्गुरु डा. चंद्रशेखर शिवाचार्य महास्वामी ने योगी की तरह ही देश के सभी राज्यों में मुख्यमंत्री होने की कामना की। कहा कि योगी जिस प्रकार से उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने में लगे हैं तो समस्त संत समाज उनके साथ खड़ा रहेगा। उन्होंने मठ में चौथी बार पधारे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को प्रसाद, अंगवस्त्रम और धार्मिक वस्तुएं प्रदान कर सम्मान किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जंगमबाड़ी मठ में संतों को संबोधित किया और कहा कि भारत में अलग-अलग पंथ और समुदाय हैं, परन्तु ये विभाजन के लिए नहीं हैं। यह मंजिल तक पहुंचने के लिए अलग-अलग मार्ग हैं। लक्ष्य सबका एक ही है वसुधैव कुटुंबकम। वाराणसी के जंगमवाड़ी मठ में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सभी को सदैव धर्म के मार्ग पर चलकर उसका अनुसरण करना चाहिए।

सुबह लगभग 11 बजे बनारस आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ डीएवी कालेज में आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित समारोह में शामिल हुए। बाबा श्रीकाशी विश्वनाथ का दर्शन-पूजन किया। कानून-व्यवस्था व विकास कार्यों की समीक्षा की और निर्माणाधीन परियोजनाओं का निरीक्षण भी किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 1 =

Back to top button