उत्‍तराखंड में जंगलों में आग का कोहराम जारी ,सेना भी आग बुझाने में जुटी ,आबादी क्षेत्रों को खतरा

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में जंगल की आग विकराल हो गई है। वन विभाग की बढ़ती मुश्किलों के मद्देनजर सेना भी जंगल में आग बुझाने में जुट गई है।

जंगलों में आग की रिकार्ड 227 घटनाएं दर्ज

बुधवार को प्रदेश के जंगलों में आग की रिकार्ड 227 घटनाएं दर्ज की गईं। जिनमें 561 हेक्टेयर वन क्षेत्र को नुकसान पहुंचा। गढ़वाल क्षेत्र में आग बुझाने के प्रयास में एक ग्रामीण झुलसकर घायल हो गया। इसी के साथ प्रदेश में अब तक जंगल की आग की कुल 1443 घटनाएं हो चुकी हैं। जिनमें 2433 हेक्टेयर वन क्षेत्र प्रभावित हुआ है।

jagran

आग से एक की मौत, पांच व्‍यक्ति हुए घायल

इस दौरान गढ़वाल में तीन व्यक्ति आग की चपेट में आकर घायल हुए। वहीं, कुमाऊं मंडल में भी दो व्यक्ति घायल जबकि, एक की मौत हो चुकी है। आरक्षित क्षेत्र में 1028 और सिविल व वन पंचायत क्षेत्र में 415 घटनाएं हुई हैं।

jagran

स्‍कूल तक पहुंची जंगल की आग

मंगलवार रात्रि को चमोली जिले के कर्णप्रयाग में जंगल की आग राजकीय इंटर कालेज केदारूखाल तक पहुंच गई। जिसके चलते तीन कक्षा-कक्ष और उनमें रखा फर्नीचर जलकर राख हो गए।

झाड़ि‍यों व पेड़ की टहनियों से आग पर पाया काबू

कालेज के प्रधानाचार्य संजय शाह ने बताया कि बुधवार की सुबह शिक्षकों, छात्रों व ग्रामीणों ने विद्यालय में लगी आग पर झाड़ि‍यों व पेड़ की टहनियों से काबू पाया। जिसके चलते अन्य दो कक्षों को आग से बचाया गया।

jagran

धारचूला में जंगलों की आग गांव तक पहुंची

कुमाऊं में ऊधमसिंह नगर जिले को छोड़ शेष पांचों पर्वतीय जिलों में जंगल की आग बढ़ती जा रही है। बुधवार को पिथौरागढ़ से धारचूला तक जंगल जलते रहे। धारचूला में जंगलों की आग गांव तक पहुंच गई। ग्रामीणों की शिकायत के बाद वन महकमा हरकत में आया।

jagran

आग एक पहाड़ी से दूसरी पहाड़ी तक फैली

पिथौरागढ़ मुख्यालय से सटे कपिलेश्वर क्षेत्र के जंगल मंगलवार रात आग की चपेट में आ गए। आग एक पहाड़ी से दूसरी पहाड़ी तक फैल गई। अल्मोड़ा जिले में बुधवार को भी द्वाराहाट, सोमेश्वर वन क्षेत्र समेत ढौरा, सुनोली आदि स्थानों में भी जंगल जले।

पहाड़ी पर लगी आग से गिर रहे पत्थर

नैनीताल जिले में अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे पर गरमपानी के पाडली क्षेत्र की पहाड़ी पर लगी आग से पत्थर गिर रहे हैं। इस कारण हाईवे पर आवाजाही तीन घंटे बाधित रही। उत्तरकाशी जिला मुख्यालय सहित गंगा घाटी, यमुना घाटी और टोंस घाटी के निकट के जंगलों में लगी आग विकराल हो गई है।

jagran

 आग के चलते आस-पास के क्षेत्रों में धुंध छाई

यहां आग पर काबू पाने के लिए वन विभाग की ओर से कोई प्रयास नहीं किए गए। टिहरी जिले के विभिन्न जगहों पर जंगल आग से सुलग रहे है। आग के चलते आस-पास के क्षेत्रों में धुंध छाई है और क्षेत्रवासियों को उमस का सामना करना पड़ रहा है।

jagran

वन विभाग के साथ ही ग्रामीण आग बुझाने में जुटे

कुछ जगह ऐसी है जहां पिछले एक सप्ताह से जंगल आग की चपेट में हैं। आग गांव की ओर ना पहुंचे इसके लिए वन विभाग के साथ ही ग्रामीण आग बुझाने में जुटे हैं। वहीं पौड़ी जिले के लैंसडौन-फतेहपुर मोटर मार्ग में पेंटिंग का काम कर रहे दो मजदूरों को वन कर्मियों ने जंगल में आग लगाते दबोच लिया। दोनों से दस हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

six + three =

Back to top button