को नहि जानत है जग में कपि संकटमोचन नाम तिहारो!चटकती धूप भी बजरंग भक्तों का उत्साह नहीं डिगा सकी

कड़ी और चटकती धूप, मगर बजरंग भक्तों के बीच उत्साह की कोई कमी नहीं दिखी, कुछ ऐसा ही मनोहारी दृश्य ज्येष्ठ माह के चौथे बडे मंगल पर्व पर लक्ष्मणनगरी यानी राजधानी लखनऊ में जगह-जगह देखने को मिला।

लखनऊ (आरएनएस)

एयरपोर्ट अमौसी एरिया से लेकर, आलमबाग, आशियाना कॉलोनी, बंगला बाजार, तेली बाग, चारबाग, नाका हिंडोला, लाटूश रोड, कैसरबाग, परिवर्तन चौक, हजरतगंज, आईटी चौराहा, निशातगंज, डालीगंज, चौक, अमीनाबाद, फैजाबाद रोड, इंदिरानगर, तकरोही, अलीगंज, गोमतीनगर, चिनहट व हुसड़िया चौराहा सहित शहर के लगभग चौक-चौराहों के आसपास बडे मंगल का भंडारा देखने को मिला। कहीं को नहि जानत है जग में कपि संकटमोचन नाम तिहारो, तो कहीं हनुमान जी का भजन व आरती तो कहीं मानस व सुंदरकांड की चौपाइयां सुनने को मिलीं। सूबे के दोनों डिप्टी सीएम क्रमश: केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक ने भी शहर में आयोजित अलग-अलग भंडारों में अपनी उपस्थिति दर्ज करायी और खुद अपने हाथों से प्रसाद वितरण किया। भंडारे में कहीं पूड़ी व कद्दू की सब्जी, कहीं आम का बना पना, ठंडा शर्बत, लस्सी, बूंदी तो कहीं कढ़ी चावल और छोला चावल बांटें गये।

Rashtriya News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 + eleven =

Back to top button