प्रदेश में चिन्हित 1431 अवैध ऑटो टैक्सी बस स्टैण्ड हटाये गये

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देश पर प्रदेश भर में सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिये इस कार्य से जुड़े विभिन्न विभागों की संवेदनशीलता और अधिक बढ़ायी गयी ताकि सड़क दुर्घटनाओ से होने वाली जन हानि को न्यूनतम किया जा सके।प्रदेश के सभी जनपदों एवं मंडलों में सड़क सुरक्षा के हर संभव उपाय किये जाने के साथ.साथ वाहनों में ओवर लोंिडग व डग्गामारी को रोकनेए रोड इंजीनियरिंग के माध्यम से सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने तथा यातायात व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ व चुस्त.दुरूस्त किये जाने की दिशा में गंभीरता से प्रयास किये गये हैं।

लखनऊ (आरएनएस )

अपर मुख्य सचिवए गृह  अवनीश कुमार अवस्थी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री  की अपेक्षा के अनुरूप प्रदेश भर में इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित किये जाने हेतु विगत 19 मई से 15 जून तक चले इस विशेष अभियान में गृह विभाग व प्रत्येक जिले के वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासकीय अधिकारियों के अलावाए प्रदेश के अन्य विभागों यथा.पुलिस यातायातए परिवहनए सूचनाए बेसिक शिक्षाए माध्यमिक शिक्षाए उच्च शिक्षाए लोक निर्माणए नगर विकासए चिकित्सा शिक्षा व नगर विकास विभाग द्वारा सड़क सुरक्षा व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ करने की दिशा में गम्भीरता से प्रयास किये गये हैं।अपर मुख्य सचिवए गृह ने अभियान के दौरान हुई प्रगति की जानकारी देते हुए बताया है कि इस अवधि में प्रदेश में चिन्हित 1431 अवैध ऑटो टैक्सी बस स्टैण्ड को हटाया गया है। अवैध ऑटो टैक्सी बस स्टैण्ड संचालकों के विरुद्ध 123 पर गुण्डा अधिनियमए 02 पर गैंगस्टर अधिनियम में कार्यवाही की जा चुकी है तथा 2162 से अधिक वाहनों को भी जब्त किया जा चुका है।अवैध अतिक्रमणध्पार्किंग के विरुद्ध चलाए गए अभियान के तहत सड़कों पर अतिक्रमण के चिन्ह्ति 76196 स्थलों को हटाया जा चुका है। इसी प्रकार 3433 अवैध पार्किंग स्थल हटा दिये गये हैं। इस कार्य में शामिल 56 व्यक्तियों पर गुण्डा अधिनियम तथा 03 व्यक्तियों पर गैंगस्टर अधिनियम के तहत भी कार्यवाही की गयी है तथा 2034 वाहनों को भी जब्त किया जा चुका है। लोक निर्माण विभाग द्वारा 752 ब्लैक स्पॉट चिन्हित कर उनके सुधार हेतु उचित कार्यवाही की गयी। अवैध ट्रांसपोर्ट एवं परिवहन से सम्बन्धित 34 माफियाओं को चिन्हित किया गया हैए 17 के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गयी है। इन चिन्हित माफियाओं में से 02 पर गैंगस्टर एक्टए 07 गुण्डा एक्ट की कार्यवाही कर 10 की गिरफ्तारी की गयी। गैंगस्टर एक्ट की धारा 14;1द्ध के अर्न्तगत भी 02 पर कार्यवाही की गयी है तथा अन्य कार्यवाही की संख्या 89 रही।निर्धारित गति सीमा से अधिक गति से दो पहिया वाहन चलाने पर 18119 चालान कर 6887300 रुपये शमन शुल्क वसूला गया। इसी प्रकार 31062 चार पहिया वाहनों का चालान कर 6699000 रुपये शमन शुल्क वसूला गया। मदिराध्मादक द्रव्यों का सेवन कर वाहन चलाने की जांच हेतु 328821 वाहन चालकों को चेक किया गयाए जिनमें से 9342 चालकों के नशे की हालत में पाये जाने पर उनका चालान किया गया है।
एक्सप्रेस वे राष्ट्रीय  राजमार्ग प्राधिकरण लोक निर्माण विभाग की सड़कोंए नगर मार्कों एवं सड़कों के किनारे 106186 स्थानों से अवैध अतिक्रमण हटाया गया तथा अवैध अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध 13129 अभियोग पंजीकृत किये गये।   इसके अलावा स्कूलए बाजार व महत्वपूर्ण स्थलों आदि पर दुघटना की सम्भावनाओ को कम करने के उद्देश्य से स्पीड लिमिटए मोड इत्यादि दर्शित करते हुये साइनेज बोर्ड लगाये गये हैं।
उल्लेखनीय है कि ध्वनि प्रदूषण में कमी हेतु मा0 उच्च न्यायालय के आदेश के अनुुपालन में धार्मिक स्थलों आदि से हटाये गये लाउडस्पीकर की कुल संख्या 74700 है। इसके अलावा 59950 लाउडस्पीकरों की ध्वनि को कम कर उसे निर्धारित मानकों के अनुरूप कराया गया है। धार्मिक स्थलों से उतरने के पश्चात् स्कूलों को वितरित ध्वनि विस्तारक यंत्रों की संख्या 17791 है। क्षेत्र के पब्लिक एडेªस सिस्टम हेतु 1960 ध्वनि विस्तारक यंत्र भी अब तक दिये जा चुके हैं।
सार्वजनिक मार्गों सड़कों व अन्य सार्वजनिक स्थलों पर धार्मिक आयोजनों के सम्बन्ध में धर्मगुरुओं के साथ की गयी गोष्ठीध्संवाद की संख्या 27042 है। इसके अलावा सार्वजनिक मार्गों व सड़कों पर आवागमन बाधित कर रहे 34 आयोजकों के विरुद्ध भी कार्यवाही की गयी है। यू0पी0 112 द्वारा 1566 दो पहिया व 3118 चार पहिया वाहनों के माध्यम से शहरीए अर्द्धशहरी व ग्रामीण क्षेत्रां में पेट्रोलिंग कर सड़क सुरक्षा व यातायात सम्बन्धी जानकारी से लोगों को जागरूक किया गया है।प्रदेश भर में पुलिस विभाग के विभिन्न अधिकारियो व कर्मचारियो द्वारा फुट पेट्रोलिंग कर 332100 स्थानों पर गश्तध्चेंकिग की गयी तथा नियम विरुद्ध काम करने के सम्बन्ध में 9300 अभियोग पंजीकृत कर 9728 व्यक्तियों की गिरफ्तारी की गयी है। फुट पेट्रोलिंग के इस अभियान के दौरान 2927 अवैध शस्त्रए 2333 अवैध वाहन भी बरामद किये गये तथा 54449 अवैध अतिक्रमण भी हटवाये गये। इस अभियान के तहत वाहनों के फिटनेस प्रमाण.पत्र की सघन जाँच की भी कार्यवाही भी चल रही हैए ताकि बिना फिटनेस प्रमाण.पत्र के कोई भी वाहन यथा स्कूल बसए प्राइवेट बसए परिवहन विभाग की बसेंए प्राइवेट कॉन्ट्रªैक्ट बसंए ट्रक दो पहिया व चार पहिया इत्यादि वाहनों का संचालन न होने पाये। इस जांच मंे अनफिट पाये जाने पर स्कूली वाहन की संख्या.19510 तथा  व्यावसायिक वाहनो की संख्या 7252 रही जिनके संबंध में नियमानुसार कार्यवाही की गयी। ओवरलोडेड वाहनों के विरूद्व कार्यवाही करते हुए 1540 86 लाख रूपये प्रशमन शुल्क संबंधी कार्यवाही की गयी।
ओवरलोडिंग रोकने हेतु विशेष प्रवर्तन अभियान चलाकर ट्रªकों का निर्धारित क्षमता के अनुसार ही लोड होना सुनिश्चित किया गया। अवैध खनिज परिवहनध्ओवर लोडिंग रोकने के लिए भूतत्व खनिकर्म एवं परिवहन विभाग द्वारा भी संयुक्त अभियान चलाया गया। भ्रष्टाचार के विरूद्व जीरों टालरेंस की नीति पर चलते हुये अवैध वसूली में लिप्त कर्मियों के 16 प्रकरण प्रकाश में आये है जिनमें 31 कर्मियों को चिन्हित कर 9 अभियोग पंजीकृत किये गये है। साथ ही इस संबंध में 16 के विरूद्व अन्य कार्यवाही की गयी है।

Rashtriya News 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × 4 =

Back to top button