मरम्मत के बाद कैसे गिरा ब्रिज- मल्लिकार्जुन खरगे

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने मोरबी हादसे की जांच सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से कराने की मांग की है। खरगे ने कहा कि मरम्मत के बाद ही ब्रिज गिर गया इसका क्या कारण है।

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। गुजरात के मोरबी जिले में हुए केबल ब्रिज हादसे में मृतकों की संख्या 140 के पार हो गई है। हादसे को लेकर देशभर के नेताओं की प्रतिक्रिया सामना आ रही हैं। उधर, विपक्षी दल कांग्रेस ने भी हादसे पर दुख जताया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा है कि वो हादसे पर किसी तरह की राजनीति नहीं करना चाहते हैं। हालांकि, उन्होंने मामले की जांच रिटायर्ड जज से कराने की मांग की है।

खरगे ने कहा, ‘हम कांग्रेस पार्टी और अपनी ओर से मृतक के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं। साथ ही जो भी लोग इस ब्रिज को बनाने में शामिल थे इसकी जांच की जानी चाहिए।’ खरगे ने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में हादसे की जांच कराई जानी चाहिए।

मरम्मत के बाद कैसे गिरा ब्रिज-

खरगे ने सवाल किया कि इस ब्रिज को ठीक करने के बाद इसका उद्घाटन हुआ और मरम्मत के बाद ही ब्रिज गिर गया, इसके पीछे क्या कारण है? इसकी जांच होनी चाहिए। साथ ही इतने लोगों के एक साथ एक समय में ब्रिज पर उपस्थिति का कारण क्या था इसका भी पता लगाया जाना चाहिए। पीड़ितों को मुआवजा समेत सभी आवश्यक सहायता प्रदान की जानी चाहिए।

हादसे पर राजनीति नहीं करनी’

खरगे ने आगे कहा कि मृतकों के परिवार को जल्द सरकार की ओर से राहत मिलना चाहिए। घायलों को राहत दी जानी चाहिए। कांग्रेस पार्टी के कई नेता घटनास्थल पर पहुंचे और अशोक गहलोत भी घटनास्थल पर पहुंचे रहे हैं। हम अभी इस पर किसी तरह की राजनीति नहीं करना चाहते हैं।

Related Articles

Back to top button