हृदयाघात से चारधाम में नहीं थम रहा श्रद्धालुओं की मौत का सिलसिला,  केदारनाथ और यमुनोत्री में छह की हुई मौत

केदारनाथ व यमुनोत्री धाम में हृदयाघात से मरने वालों का सिलसिला थम नहीं रहा। गुरुवार को भी केदारनाथ और यमुनोत्री में तीन-तीन श्रद्धालुओं ने हृदयाघात आने से दम तोड़ दिया। इसके साथ केदारनाथ में अब तक 70 और यमुनोत्री में 37 श्रद्धालुओं की मौत हृदयाघात से हो चुकी है। जबकि, ऋषिकेश समेत चारों धाम में यह संख्या 155 पहुंच गई है।

जानकारी के अनुसार, केदारनाथ दर्शनों को पहुंचे चित्तौड़गढ़ (राजस्थान) निवासी भूपेंद्र कुमार चौहान (54) की बेस कैंप में तबीयत अचानक बिगड़ गई। स्वजन भूपेंद्र को तत्काल चिकित्सालय ले गए, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

वहीं, सीतापुर के होटल में ठहरे अहमदाबाद (गुजरात) निवासी रमेश भाई पटेल (65) को सीने में दर्द की शिकायत पर सोनप्रयाग स्थित चिकित्सालय पहुंचाया गया। जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। जबकि, बाबूराम गुप्ता (67) की मौत फाटा में हुई।

उधर, यमुनोत्री दर्शनों से लौट रहीं देवास (मध्य प्रदेश) निवासी सुलोचना सिंह राजपूत को भैरव मंदिर के पास अचानक सीने में दर्द उठने पर जानकीचट्टी लाया गया। लेकिन, इससे पहले ही वो दम तोड़ चुकी थीं।

जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि यमुनोत्री धाम जाते हुए जानकीचट्टी में चिकित्सकों ने सुलोचना सिंह से यात्र स्थगित करने का अनुरोध किया था। लेकिन, वह नहीं मानीं और स्वयं की जिम्मेदारी पर यमुनोत्री धाम चली गईं। इसके अलावा कोटा (राजस्थान) निवासी प्रेमचंद मीणा (61) की मौत खरसाली गांव जाने वाले रास्ते और इंदौर (मध्य प्रदेश) निवासी जगन्नाथ (70) की मौत जानकीचट्टी पार्किंग के पास हुई।

हृदयाघात से मरने वाले श्रद्धालु

  • धाम——–09 जून को——-कुल मृतक
  • यमुनोत्री—-03——————–37
  • गंगोत्री——-00——————-10
  • केदारनाथ—-03——————-70
  • बदरीनाथ—–00——————-33
  • ऋषिकेश——00——————-05

बदरीनाथ जा रही बुजुर्ग महिला सीढ़ियों में गिरने से चोटिल

बदरीनाथ धाम में दर्शनों को जाते समय मथुरा निवासी गायत्री देवी वीआईपी गेट के पास अचानक गिर जाने से उनके हाथ पर गहरी चोट लग गई, जिसे तत्काल पुलिस कर्मी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले पहुंचाया और उनका ट्रीटमेंट किया।

बताया कि मथुरा से अपने परिवार के साथ दर्शनों के लिए आई 64 वर्षीय गायत्री देवी जब सुबह मंदिर में दर्शनों के लिए जा रही थी, तो वीआइपी गेट के समीप अचानक उनके पांव पर ठोकर लगने से वे गिर गई, जिससे उनके हाथ पर गहरी चोट लग गई।

ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी ने घायल बुजुर्ग महिला को तत्काल स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाकर उनका इलाज कर दर्शन कराए। इस पर महिला ने पुलिस कर्मियों का न केवल आभार प्रकट किया, बल्कि प्रशंसा भी की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

4 × 2 =

Back to top button