श्रीलंका को हराने के बाद इमोशनल हुए नामीबिया के कप्तान गेरार्ड इरासमस

नामीबिया की टीम ने आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 के उद्घाटन मैच में रविवार को बड़ा उलटफेर करते हुए श्रीलंका को 55 रन से मात दी। वहीं इस ऐतिहासिक जीत के बाद टीम के साथी खिलाड़ियों से बात करते हुए कप्तान गेरार्ड इरासमस काफी भावुक हो गए। कप्तान ने कहा कि यह दिन उनके लिए बेहद ऐतिहासिक है और टीम टूर्नामेंट के सुपर 12 चरण के लिए क्वालीफाई करना चाहती है।

नामीबिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 163 रन बनाए, जिसके जवाब में श्रीलंका 108 रन पर ऑलआउट हो गयी। नामीबिया ने 14.2 ओवर में 93 रन के स्कोर पर छह विकेट गंवा दिए थे। एक समय पर ऐसा लग रहा था कि वे 150 रन तक भी नहीं पहुंच सकेंगे, लेकिन फ्राइलिंक और स्मिट की जोड़ी ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए सातवें विकेट के लिए 70 रन जोड़े। फ्राइलिंक ने 28 गेंदों पर चार चौकों के साथ 44 रन बनाए, जबकि स्मिट ने 16 गेंदों पर दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 31 रन बनाकर श्रीलंका के सामने 164 रन का लक्ष्य रखा। 

जवाब में श्रीलंका ने 40 रन पर ही अपने चार विकेट गंवा दिए। भानुका राजपक्षे (20) और कप्तान दसुन शनाका (29) ने पारी को संभालकर पांचवें विकेट के लिए 34 रन जोड़े, लेकिन 74 रन के स्कोर पर राजपक्षे के आउट होते ही श्रीलंकाई विकेटों की झड़ी लग गई। श्रीलंका अपने आखिरी पांच  विकेट 34 रन पर गंवाकर 108 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। 

https://twitter.com/ICC/status/1581554838541934592?

नामीबिया के कप्तान गेरार्ड इरासमस ने कहा, ”अविश्वसनीय सफर, पिछला साल हमारे लिए एक खास अनुभव रहा था। हमने शानदार जीत से शुरुआत की है, लेकिन इस पूरे टूर्नामेंट में अभी काफी काम करना बाकी है। यह दिन हमारे लिए बेहद ऐतिहासिक है। उद्घाटन का दिन काफी खास रहा है लेकिन हम यहां से शुरुआत करना चाहते हैं और सुपर 12 चरण के लिए क्वालीफाई करना चाहते हैं। इसका श्रेय पियरे (डी ब्रुइन) को जाता है जिस तरह से उन्होंने इस टीम के लिए कोचिंग स्थापित की है, एक जो एक जीतने वाली संस्कृति है और एक जो एक साथ रहती है। सीमित संसाधनों के साथ, मुझे नहीं लगता कि कोई और है जो इतना तंग जहाज चला सकता है।”

Related Articles

Back to top button