यूपीएसएसएफ की पहली यूनिट ने लोकभवन की सुरक्षा की संभाली कमान

प्रदेश को सुरक्षा से दृष्टि से सुदृढ़ करने के क्रम में गुरुवार को सीआईएसएफ की तर्ज पर गठित की गई स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स यूपीएसएसएफ की पहली यूनिट ने लोकभवन की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल ली है। अत्याधुनिक हथियारों से लैस यूपीएसएसएफ को गिरफ्तारी का भी अधिकार दिया गया है। यूपी में यूपीएसएसएफ की पांच यूनिट तैयार हो गई हैं। लोकभवन, विधान भवन, एयरपोर्ट, न्यायालय, मेट्रो व बडे़ व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए यूपीएसएसएफ का गठन किया गया है।

लखनऊ (आरएनएस)

गुरुवार की सुबह लोकभवन के तीन गेटों पर जवान तैनात दिखे हैं। स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स के अगुवा एडीजी पीएसी डॉ केएस प्रताप कुमार करेंगे। पहले चरण में लोकभवन के 3, 7 और 9 नंबर  गेट पर 4 सिपाही व एक एचसीपी की टीम तैनात की गई है। अगले चरण में प्रदेश के न्यायालय व अन्य सरकारी भवनों की सुरक्षा एसएसएफ संभालेंगी। एक यूनिट में 75 टीमें है। प्रत्येक टीम में 24 जवान तैनात किए गए हैं।
छठीं यूनिट अयोध्या के लिए प्रस्तावित
योगी सरकार 2.0 में एक विशेष सुरक्षा दल के गठन का आदेश जारी किया गया था। इसे यूपीएसएसएफ नाम दिया गया। इस विशेष दल में यूपी पुलिस, आर्म्स फोर्स व पीएसी के चिह्नित जवानों को शामिल किया गया है। सीतापुर में 90 दिन तक कमांडों की ट्रेनिंग दी गई है। स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स को लखनऊ, प्रयागराज, मथुरा, गोरखपुर और सहारनपुर में तैनात किया गया है। छठीं यूनिट अयोध्या के लिए प्रस्तावित है। स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स जवानों एमपी.5 गन के साथ मुस्तैद रहेंगे। यह एके 47 का अपडेट वर्जन है। इसके साथ ही स्कैनर व अन्य जरूरी उपकरण उपलब्ध कराए गए हैं। वीआईपी सुरक्षा के अतिरिक्त यूपीएसएसएफ जवानों को आम जनता से किस सलीके से व्यवहार करना है, इसका भी प्रशिक्षण दिया गया है।

Tags : #upnews #uttarpradesh #UPSSF #SpecialSecurityForce #VIPsecurity #hindinews #yogigovernment

Rashtriya News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button