प्रथम श्रेणी क्रिकेट को यूपी से चार टीमों की जरूरत : मोहसिन

 पूर्व रणजी खिलाड़ी और विधान परिषद सदस्य मोहसिन रजा ने जनसंख्या घनत्व के मामले में देश में अव्वल उत्तर प्रदेश में प्रथम श्रेणी क्रिकेट के लिये एक की बजाय चार टीम होने की वकालत की है।

भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (बीसीसीआई) को लिखे एक पत्र में मोहसिन ने कहा  देश ही नहीं बल्कि दुनिया में सबसे बड़ा उपखंड यूपी की आबादी 25 करोड़ से अधिक है जिसका मतलब है कि भारत की कुल आबादी का छठा हिस्सा यहां रहता है मगर हमारे पास राज्य का प्रतिनिधित्व करने वाली केवल एक क्रिकेट टीम है। एक पूर्व क्रिकेटर होने के नाते, मैं इस संघर्ष को समझता हूं कि राज्य के इन युवा आकांक्षी क्रिकेटरों को टीम में उन दुर्लभ 15 स्थानों के लिए प्रतिस्पर्धा करते हुए गुजरना पड़ता है। 25 करोड़ की इतनी घनी आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश की प्रतिभा, इन 15 स्थानों के लिए होड़ बेहद अनुचित है, जिसका परिणाम प्रतिभाओं का दम घोंटना और उन लोगों के होनहार करियर से समझौता करना है, जिन्हें कभी भी राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका नहीं मिलता है।
उन्होने कहा कि लगभग 15 लाख की आबादी वाले गोवा और लगभग 42.4 लाख की आबादी वाले त्रिपुरा जैसे राज्यों की अपनी टीमें हैं। महाराष्ट्र और गुजरात के पास क्रमश: तीन-तीन टीमें हैं जो उनका प्रतिनिधित्व करती हैं। उत्तर प्रदेश भी काफी उच्च प्रतिनिधित्व का हकदार है। महाराष्ट्र ने भारतीय क्रिकेट प्रतिभा में अभूतपूर्व योगदान दिया है क्योंकि इसमें तीन टीमें हैं जो इसका प्रतिनिधित्व करती हैं, जो इच्छुक खिलाडिय़ों को अनुमति और अवसर दोनों प्रदान करती हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि यदि हम उत्तर प्रदेश की प्रतिभाओं को इसी तरह के अवसर प्रदान करते हैं, तो हमारा राज्य भी राष्ट्र के लिए कई प्रतिभाशाली स्टार क्रिकेटरों का उत्पादन करेगा।
पूर्व रणजी खिलाड़ी ने बीसीसीआई सचिव से अनुरोध किया आप इस तथ्य पर विचार करें कि उत्तर प्रदेश राज्य में एक से अधिक चार क्रिकेट टीम होनी चाहिए, ताकि कोई भी प्रतिभा बिना अवसर के न रह जाए जो हमारे देश की क्रिकेट की ताकत को आगे बढ़ाए।

Rashtriya News 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 + four =

Back to top button