गर्मी में बारिश से मिली निजात, मौसम बदलने से किसान चिंतित

उरई। वैशाख माह के अंतिम पखवाड़े मे मौसम का मिजाज बदलने के कारण जहां पर लोगों को गर्मी से निजात मिली है तो वहीं पर जायद की फसल उगाने वाले किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें दिखाई दे रही है। लगभग एक सप्ताह से हो रही ओलावृष्टि-वारिश के कारण किसान अपनी फसलों को लेकर परेशान नजर आ रहे है। जबकि बारिश होने के कारण मौसम बेहद खुशनुमा हो गया है। लोगों को गर्मी से निजात मिली है।

बताते चले हिन्दी महीने के वैशाल माह के अंतिम पखवाड़े मे हो रही बेमौसम वारिश ने जहां किसानों की चिंता बढ़ाई है तो वहीं पर लोगों को गर्मी से लोगों को निजात मिली है। सोमवार की रात को बारिश होने के कारण जनपद मे मौसम मे ठण्डक देखने के मिली है। कहीं न कहीं प्रतिदिन हो रही वारिश के कारण दिन भर ठण्डी हवायें चलने लोग आनन्द का अनुभव महसूस कर रहे है। दिनभर बादलों की आवागमन के चलते लोगों को सर्दी का एहसास हो रहा है। हालत यह है कि जिस माह मे पड़ने वाली भीषण गर्मी से लोग परेशान नजर आते थे वहीं लोग वारिश होने के साथ ठण्डी हवाओं के चलने से गर्मी से राहत महसूस कर रहे है। लोगों ने रात के समय एसी-कूलर चलाने भी बंद कर दिये है।

इस मौसम मे भी लोगों को रात के समय कपड़े ओढ़कर सोना पड़ रहा है। बेमौसम हो रही बारिश से जायद की फसल बोने वाले किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें दिखाई दे रही है। जायद की फसल पैदा करने वाले बाबूलाल, रामबाबू, मीनू, भगत सिंह सहित अन्य किसानों द्वारा बताया गया है कि बेमौसम बारिश के साथ ओले पड़ने से मौसम तो खुशनुमा हुआ है मगर मूंग, उर्द, फल, सब्जी आदि की फसलों मे नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि इसी तरह दो-चार दिन बारिश और होती रही तो जायद की फसलों मे अधिक नुकसान हो सकता है।

मच्छरों की बढ़ रही तादात से आमजन परेशान:

बेमौसम हो रही बारिश के कारण नगर मे कीचड़ बढ़ने से मच्छरों की संख्या बढ़ गयी है। हालत यह है कि चाहे दिन हो या रात मच्छरों के आतंक से लोगों की नीद हराम हो रही है। मच्छरों के आगे मच्छर मार अगरवत्ती, मोर्टिन कुछ भी काम नहीं कर रहा है। दिन मे भी मच्छर लोगों को सकून से नहीं बैठने दे रहे है। अधिकतर शहर क्षेत्र मे नाले नालियों की साफ सफाई न होने के कारण मच्छरों की तादत बढ़ती जा रही है। जिसके कारण लोगों का सुख चैन छिनता जा रहा है।

लोगों ने बताया कि काफी समय से नगर पालिका एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा मोहल्लों मे मच्छर मार दवा का छिड़काव नहीं कराया गया। जिसके कारण मच्छरों की संख्या बढ़ने से लोग परेशान है। इतना ही नहीं लोगों को मच्छरों से होने वाली संक्रमित बीमारियों का खतरा सताता रहता है। लोगों ने मांग की है कि नगर मे नालियो की साफ सफाई करायी जाये एवं मच्छर सहित दवा का छिड़काव करवाया जाये जिससे लोगों को मच्छरों से निजात मिल सके और आराम से लोग अपनी नींद ले सके।

Tag: #nextindiatimes #rain #weather #forecast

Related Articles

Back to top button