आंखों का तनाव दूर करने के लिए अपनाए जा सकते हैं ये 5 आसान तरीके

लंबे समय तक लैपटॉप पर काम करने या फिर डिजिटल गैजेट्स का अधिक इस्तेमाल करने से आंखों में तनाव हो सकता है। कई शोध के मुताबिक, अधिकतर लोग स्क्रीन टाइम के दौरान पलकें कम झपकाते हैं और इससे आंखों में रुखापन उत्पन्न होता है। यही तनाव का कारण बनता है। इससे आंखों में थकावट और दर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आइए जानते हैं कि आंखों को तनाव से कैसे सुरक्षित रखा जा सकता है।

पर्याप्त रोशनी में बैठकर करें काम:

यदि आपके कमरे की रोशनी बहुत तेज या कम है तो इससे आंखों पर जोर पड़ सकता है और यह तनाव के साथ सिरदर्द का कारण बन सकता है। ऐसे में कमरे की लाइट्स को सही ढंग से व्यवस्थित करें ताकि आंखें बिना ज्यादा मेहनत किए लैपटॉप या अन्य डिजिटल गैजेट्स की स्क्रीन को आसानी से देख सकें। वहीं पढ़ते समय अपनी डेस्क पर लाइट लैंप रखना भी एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

ज्यादा से ज्यादा पलकें झपकाएं:

कई शोध के मुताबिक, एक व्यक्ति डिजिटल गैजेट्स का इस्तेमाल करते समय अपनी पलकें सामान्य रूप से केवल एक-तिहाई बार ही झपकाता है। पलकें कम झपकाने से आंखों में सूखापन, जलन, रोशनी कम होना, बेचैनी और एकाग्रता में कमी हो सकती है। नतीजतन, यह आंखों के स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। बेहतर होगा कि किसी भी डिजिटल गैजेट का इस्तेमाल करते समय बार-बार पलकें झपकात रहें।

20-20-20 एक्सरसाइज करें:

टीवी या लैपटॉप स्क्रीन पर लगातार देखने से आंखों में तनाव और दर्द होने की संभावना बढ़ जाती हैं। दरअसल, इन गैजेट्स की स्क्रीन से आंखों की मांसपेशियों पर बुरा प्रभाव पड़ता है, जिससे आंखों में दर्द होने लगता है। ऐसे में इनका इस्तेमाल करते समय हर 20 मिनट के बाद 20 सेकंड के लिए 20 फीट दूर रखी किसी वस्तु को देखें। इससे आंखें हमेशा स्वस्थ रहेंगी।

ब्लू लाइट से बचें:

फोन और लैपटॉप से हानिकारक ब्लू लाइट निकलती है, जिसे आंखों के लिए फिल्टर करना मुश्किल होता है। लंबे समय तक इस लाइट के संपर्क में रहने से आंखों में खिंचाव, तनाव और सिरदर्द हो सकता है और नींद पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। ऐसे में इस लाइट से सुरक्षित रहने के लिए अपने गैजेट्स पर एंटी-ग्लेयर स्क्रीन लगाएं।

डिजिटली डिटॉक्स का तरीका अपनाएं:

डिजिटली डिटॉक्स से मतलब है कि स्क्रीन से बाहर आकर वास्तविक दुनिया का आनंद लें। उदाहरण के लिए अगर रविवार को ऑफिस की छुट्टी है तो कोशिश करें कि आप अपने परिवार के साथ बिताएं और फोन, लैपटॉप और टीवी से दूरी बनाए रखें। इसके अलावा जब भी ऑफिस से घर आएं तो कम से कम एक घंटे के लिए फोन बंद कर दें। इससे आपकी आंखें काफी हद तक तनाव मुक्त रह सकेंगी।

Tag: #health #eyehealth #eye #digital #stress #methods #lamp #study #beautifuleyes #filter #bluerays #screen

Related Articles

Back to top button