बियर पीने से सेहत को होता हैं बड़ा नुकसान

इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि बीयर शराब का सबसे लोकप्रिय विकल्प है। भारत में तकरीबन 30 फीसदी लोग बीयर पीने का शौक रखते हैं। लोग शराब से ज्यादा बियर पीते हैं। केवल 5 से 12 फीसदी तक एल्कोहल होने के कारण बीयर को अन्य नशीले ड्रिंक्स के मुकाबले कम हानिकारक माना जाता है। बहुत से लोग दिनभर की थकान और आराम पाने के लिए ठंडी बियर पीना पसंद करते है। कई अध्ययनों से पता चलता है कि बीयर पीने से उम्र बढ़ सकती है, दर्द कम हो सकता है और हृदय रोगों का खतरा कम हो सकता है। लेकिन इन सबके बीच हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि इसमें कम ही सही लेकिन अल्कोहल तो होता है और इसका अधिक और नियमित सेवन स्वास्थ्य से जुड़ी कई परेशानियों का कारण बन सकता है। इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि अगर आप हर रात बीयर पीते हैं तो आपके शरीर का क्या हाल हो जाता है।

– यह सही है कि बीयर में अल्कोहल की मात्रा कम होती है और इसमें कैलोरी की मात्रा अधिक होती है। आम तौर पर लोग एक बार में एक से अधिक बोतल बीयर पीते हैं, जिससे कुल कैलोरी की मात्रा अधिक हो जाती है। बीयर में अन्य खाद्य पदार्थों की तुलना में अलग तरह की कैलोरी होती है, जो आपका बैली फैट बढ़ाने का काम करती है। इस बात को जान लें कि कमर के आस-पास चर्बी बहुत खतरनाक होती है। इसलिए एक गिलास बीयर ही आपके लिए काफी है। आपको बता दे, एक गिलास बियर में लगभग 150 कैलोरी होती है और अल्कोहल की मात्रा बढ़ने से कैलोरी की ज्यादा बढ़ जाती है। एक अन्य शोध में दावा किया जा चुका है कि पेट की चर्बी बढ़ने से पुरुषों में पिता बनने की क्षमता 10 प्रतिशत तक कम हो जाती है।

– कई शोध में यह सामने आया है कि दिल के लिए बियर पीना अच्छा है लेकिन यदि इसका सेवन लिमिट से अधिक हो जाता है तो यह उल्टा असर दिखाना शुरू कर देती है। अधिक बीयर का सेवा हृदय की मांसपेशियों को नुकसान पहुंचाता है जिससे स्ट्रोक, उच्च रक्तचाप, टाइप-2 मधुमेह और दिल की अनियमित धड़कन का खतरा बढ़ जाता है। नियमित शराब पीने वालों की तुलना में साप्ताहिक भारी शराब पीने वालों (सप्ताह में दो बार) में जोखिम और भी अधिक है। यह रक्तचाप के स्तर में अचानक उतार-चढ़ाव के कारण होता है।

– पुरुषों के लिए प्रतिदिन दो पेय और महिलाओं के लिए एक पेय को मध्यम पेय माना जाता है। इस सीमा से आगे जाने पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकते हैं। शराब की मात्रा में अधिक बीयर पीने से आपको उच्च रक्तचाप और किडनी की बीमारियों का खतरा हो सकता है। दरअसल, बीयर मूत्रवर्धक (diuretic) है और आपकी किडनी पर अतिरिक्त दबाव डाल सकती है। यह डिहाइड्रेशन का कारण भी बन सकती है और शरीर को इंबैलेंस कर सकती है। बीयर का नियमित सेवन आपके गुर्दे को नुकसान पहुंचा सकता है जिससे किडनी स्टोन या किडनी फेलियर का खतरा बढ़ जाता है।

– एक शोध में सामने आया है कि नियमित या अधिक मात्रा में बीयर का सेवन पुरुषों के सेक्स हार्मोन पर बुरा असर डालता है। जिसकी वजह से पुरुषों के पिता बनने की क्षमता को 50% तक कम हो जाती है।

– बीयर के नियमित सेवन से लिवर पर बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ता है। क्योंकि इसमें जो एल्कोहल पाया जाता है, वह लीवर को नुकसान पहुंचता है और यदि ऐसा हुआ तो समझ लीजिए आपकी पाचन शक्ति पूरी तरह से बिगड़ जाएगी।

– रोज बीयर का सेवन करने से शरीर में कुछ विटामिन और मिनरल्स की कमी हो सकती है। ऐसे में जब इन पोषक तत्वों की पूर्ति नहीं होती है तो इसका असर आपके स्वास्थ्य पर पड़ता है। एल्कोहल को मेटाबोलाइज करने के लिए, हमारे शरीर को कुछ बी विटामिन जैसे अतिरिक्त पोषक तत्वों की जरूरत होती है। हम अपनी रोज की डाइट में पोषक तत्व आसानी से प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन जरूरत से ज्यादा पोषक तत्वों को पूरा करने के लिए शरीर को उन्हें ऑब्जर्ब करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है।

– लगातार बियर पीने से दिमाग की सारी कोशिकाएं नष्ट हो जाती है, जिससे कि वह किसी भी चीज पर अपने दिमाग को केंद्रित नहीं कर पाते और सोचने समझने की शक्ति कम हो जाती है।

– शराब और रात की अच्छी नींद का आपस में अच्छा मेल-जोल नहीं है। कुछ अध्ययनों से यह बात सामने आई है कि बीयर पीने से एक व्यक्ति को जल्दी नींद आने में मदद मिल सकती है, लेकिन ऐसा लंबे समय तक नहीं होता है। शाम को बीयर पीने से दिन के समय आप एकाग्रता के साथ काम नहीं कर पाते हैं, साथ ही आपको थकान भी महसूस होती है। ऐसे में शराब आपकी नींद और मूड दोनों को के लिए नुकसानदायक है। कुछ लोग अत्यधिक शराब के सेवन के कारण रात में ठीक से सो नहीं पाते है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × 4 =

Back to top button