क्या आप जानते है की गुनगुना दूध पीने के बाद आखिर क्यों जल्दी आ जाती है नींद?

हम में से कई लोग सोने से पहले गर्म दूध पीना पसंद करते हैं। अगर आपको याद हो तो बचपन से हमारे मां-बाप रात के खाने के बाद हल्दी दूध या फिर बादाम दूध पीने के लिए दबाव डालते आए हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ऐसा माना जाता है कि रात में गर्म दूध पीने से आपको अच्छी नींद आती है। लेकिन कभी आपने सोचा है ऐसा क्यों होता है?

वैज्ञानिकों का कहना है कि दूध पेप्टाइड्स का मिश्रण, जिसे कैसिइन ट्राइप्टिक हाइड्रोलाइज़ेट (सीटीएच) कहा जाता है, तनाव को दूर करने के लिए जाना जाता है, और अच्छी नींद को बढ़ावा देता है। सिर्फ इतना ही नहीं। अमेरिकन केमिकल सोसाइटी के जर्नल ऑफ एग्रीकल्चर एंड फूड कैमिस्ट्री में एक रिपोर्ट ने सीटीएच में कुछ विशिष्ट पेप्टाइड्स की पहचान की है कि जिसका आने वाले समय में नींद के प्राकृतिक उपचार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।एक रिपोर्ट के अनुसार, वैज्ञानिकों ने कई प्राकृतिक पेप्टाइड्स, या प्रोटीन के छोटे टुकड़ों की भी खोज की है, जिनमें चिंता-विरोधी और नींद बढ़ाने वाले प्रभाव होते हैं”। एक चूहे पर रिसर्च की गई, जिसमें देखा गया कि सीटीएच में बेहतर नींद बढ़ाने वाले गुण थे।

जब चूहों पर सबसे मज़बूत पेप्टाइड्स को टेस्ट किया गया, तो इनमें से सबसे अच्छे पेप्टाइड्स की मदद से कई चूहों को जल्दी सुला दिया। इसके अलावा, एक नियंत्रण समूह की तुलना में नींद की अवधि में 400 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई। हालांकि, शोधकर्ताओं का सुझाव है कि इस आशाजनक पेप्टाइड के अलावा, अन्य चीज़ों का पता लगाया जाना चाहिए जो अन्य मार्गों के माध्यम से नींद को बढ़ा सकते हैं।

इस शोध को देखते हुए, हम भी यही सलाह देंगे कि डिनर के बाद अपने दिमाग़ और शरीर को सुकून पहुंचाने के लिए दूध का एक गर्म गिलास ज़रूर पिएं। इससे आपको बिस्तर पर लेटते ही नींद आ जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 + fifteen =

Back to top button