क्या आपको भी हर वक्त होता रहता है कमजोरी का एहसास,डाइट में जरुर शामिल करें ये चीज़ें

हर वक्त कमजोरी और थकान का एहसास होता रहता है तो आपको सबसे पहले अपनी डाइट की ओर ध्यान देने की जरूरत है। यहां दी गई चीज़ों को अपने खानपान का हिस्सा बनाकर आप काफी हद तक थकान की समस्या को दूर कर सकते हैं।

बादाम

बादाम प्रोटीन और फैट का बेहतरीन स्त्रोत है। 100 ग्राम में लगभग 21 ग्राम प्रोटीन होता है। इसके रोजाना सेवन से कमजोरी दूर होती है। बादाम को पानी में भिगोकर खाना ज्यादा फायदेमंद होता है और दूसरा दूध के साथ खाना। तो रात को बादाम पानी में भिगो दें और सुबह इसका छिलका उतारकर खाएं।

अंडे

अंडे में भी प्रोटीन की अच्छी-खासी मात्रा मौजूद होती है। रोजाना एक अंडा खाने की सलाह एक्सपर्ट्स भी देते हैं। अंडा न सिर्फ कमजोरी दूर करता है बल्कि हार्ट को भी हेल्दी रखता है। एक अंडे में लगभग 6.5 ग्राम प्रोटीन होता है।

दूध

दूध पीना बच्चों से लेकर बड़ों तक के लिए फायदेमंद है। इससे शरीर में कैल्शियम की कमी तो पूरी होती ही है साथ ही प्रोटीन की भी। कैल्शियम की भरपूर मात्रा से बढ़ती उम्र में हड्डियों से जुड़ी बीमारियों से दूर रहा जा सकता है। एक लीटर दूध में लगभग 40 ग्राम प्रोटीन मौजूद होता है।

मूंगफली

मूंगफली में प्रोटीन और फैट दोनों की ही भरपूर मात्रा मौजूद होती है। तो इसे आप जिस तरीके से चाहें खाएं और शरीर की कमजोरी को दूर करें। बटर के रूप में, चिक्की की तरह, चटनी और लड्डू में भी मूंगफली का इस्तेमाल कर उसे स्वास्थ्यवर्धक और टेस्टी बनाया जा सकता है।

मूंग की दाल

वेजिटेरियन्स के लिए प्रोटीन के स्त्रोतों की कोई कमी नहीं होती। इतनी तरह की दालें, साबुन अनाज और फल होते हैं कि आप इनसे प्रोटीन की कमी को काफी हद तक पूरा कर सकते हैं। मूंग की दाल को अंकुरित करके खाने से इसमें प्रोटीन की मात्रा कई गुना तक बढ़ जाती है। प्रोटीन के अलावा ये फाइबर का भी बेहतरीन स्त्रोत होता है। जिससे पाचन तंत्र हेल्दी रहता है और वजन भी काबू में रहता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 5 =

Back to top button