प्रसिद्ध दक्षिणी अभिनेत्री जयंती का 76 वर्ष की उम्र में हुआ निधन, उम्र संबंधी बीमारियों के कारण हुई मृत्यु

प्रसिद्ध दक्षिणी अभिनेत्री जयंती, जिन्होंने दक्षिणी भाषाओं में 500 से अधिक फिल्मों में और कुछ हिंदी फिल्मों में अभिनय किया था, आज सुबह बेंगलुरु में अपने आवास पर अभिनेत्री ने अंतिम सांस ली, जयंती 76 वर्ष की थीं।  समाचार रिपोर्टों के अनुसार, जयंती की मृत्यु उम्र संबंधी बीमारियों के कारण हुई। फिल्म उद्योग में अभिनय शार

प्रसिद्ध दक्षिणी अभिनेत्री जयंती का छियतर 76 वर्ष की उम्र में हुआ निधन, उम्र संबंधी बीमारियों के कारण हुई मृत्यु
प्रसिद्ध दक्षिणी अभिनेत्री जयंती, जिन्होंने दक्षिणी भाषाओं में 500 से अधिक फिल्मों में और कुछ हिंदी फिल्मों में अभिनय किया था, आज सुबह बेंगलुरु में अपने आवास पर अभिनेत्री ने अंतिम सांस ली, जयंती 76 वर्ष की थीं।  समाचार रिपोर्टों के अनुसार, जयंती की मृत्यु उम्र संबंधी बीमारियों के कारण हुई। फिल्म उद्योग में अभिनय शारदे के रूप में जानी जाने वाली, जयंती ने 1963 में कन्नड़ फिल्म जेनु गुडू से फिल्मों में प्रवेश करने से पहले एक नर्तकी के रूप में अपना करियर शुरू किया। उन्होंने कन्नड़ फिल्म उद्योग में अपने अभिनय की शुरुआत की और कलावती, मिस लीलावती, तुलसी, बनशंकरी और आनंद जैसी फिल्मों में अपने काम के लिए लोकप्रिय रही। 
कन्नड़ फिल्मों में, जयंती ने दिवंगत अभिनेता राजकुमार के साथ 30 से अधिक फिल्मों में काम किया था। जयंती ने कई तमिल और तेलुगु फिल्मों में भी काम किया था। उनकी कुछ बेहतरीन तमिल फिल्में कर्णन, नीरकुमिझी, एथिर नीचल, इरु कोडुगल और देवधाई हैं। तेलुगु में, उन्होंने अपनी अधिकतम फिल्मों में एनटी रामा राव के साथ काम किया। उनकी कुछ कृतियों में भक्त प्रह्लाद, बड़ी पंथुलु, शारदा, कोंडावीती सिंघम और डोंगा मोगुडु शामिल हैं. 
इसी के साथ दिवंगत अभिनेत्री ने छह मलयालम फिल्में और चार हिंदी फिल्मों में भी काम किया था। आपको बता दे जयंती छह राज्य पुरस्कारों की प्राप्त कर चुकी है साथ ही 2005 में, उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × three =

Back to top button