डॉ0 शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विवि में चलेंगी राष्ट्रीय रक्षा विवि की कक्षाएं

 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद ने उत्तर प्रदेश स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फोरेंसिक साइंसेज, लखनऊ के कैम्पस में स्थापित होने वाले राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय गांधीनगर, गुजरात के रीजनल सेन्टरध्कैम्पस के स्थाई भवन का निर्माण होने तक, डॉ0 शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय में चिन्हित समेकित विशेष माध्यमिक विद्यालय के भवन को 03 वर्ष की अवधि हेतु निःशुल्क लिए जाने के लिए, गृह विभाग तथा दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के मध्य एक एम0ओयू किये जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान कर दी है।  

लखनऊ (आरएनएस)

बता दें कि भारत सरकार द्वारा वर्ष 2020 में आरआरयू अधिनियम संख्या 31 व 2020 के माध्यम से राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियों तथा पुलिस सेवा के क्षेत्र में कार्य करने वाले दक्ष कार्मिकों की उपलब्धता, शोध, प्रशिक्षण एवं आंतरिक-वाह्य सुरक्षा जैसे महत्वूपर्ण विषयों के लिए राष्ट्रीय महत्व का एक संस्थान-राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय गांधीनगर, गुजरात में स्थापित किया गया है।
कुलपति राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय द्वारा उत्तर प्रदेश में राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय (आरआरयू) का रीजनल सेन्टर व कैंपस स्थापित किये जाने के संबंध में मुख्यमंत्री से अनुरोध किया गया। मुख्यमंत्री ने उक्त रीजनल सेंटर व कैंपस उत्तर प्रदेश स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फोरेंसिक साइंसेज के परिसर में केंद्रीय संस्थान हेतु आरक्षित 05 एकड़ भूमि पर स्थापित किये जाने की सैद्धान्तिक सहमति प्रदान की गई। आरआरयू के रीजनल सेंटर के स्थाई भवन का निर्माण होने तक पारगमन सेंटर के रूप में रीजनल सेंटर प्रारम्भ किये जाने हेतु आरआरयू द्वारा डॉ0 शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय से संलग्न राजकीय समेकित विशेष माध्यमिक विद्यालय के भवन को इस ट्रांजिट व अस्थाई कैंपस के संचालन के लिए चिन्हित किया गया। इसके दृष्टिगत गृह विभाग तथा निदेशक दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग, उ0प्र0 के मध्य समेकित विशेष माध्यमिक विद्यालय, लखनऊ में निर्मित कक्षों में से वांछित कक्षों को 03 वर्ष की अवधि के लिए निःशुल्क लिए जाने के संबंध मंे एमओयू किया जाना है। राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय के अस्थाई रीजनल सेन्टर के संचालन हेतु व्यय भार का वहन आरआरयू द्वारा किया जाएगा।

राष्ट्रीय न्यूज़

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × three =

Back to top button