क्रिकेट के बैट से हमले में युवक की जान चली गई, इस घटना के बाद शहर में तनाव

पुलिस ने बताया कि जिस युवक की हत्या हुई वह सात बहनों का इकलौता भाई था। शाम उसके मित्र उसे घर से बुलाकर लाए थे। सभी दोस्त बोहरवाड़ी कॉलोनी में आपस में बातचीत कर रहे थे कि तभी घर जाने के लिए एक युवक अपनी बाइक पीछे ले रहा था।

 बांसवाड़ा शहर में बुधवार शाम बाइक से टकराने के मामूली विवाद के दौरान गुस्से में क्रिकेट के बैट से हमले में एक युवक की जान चली गई। इस घटना के बाद शहर में तनाव फैल गया और कोतवाली थाना क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया। पुलिस ने मृत युवक का शव महात्मा गांधी जिला अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया है। वहीं हत्या का मामला दर्ज कर हमलावर की तलाश शुरू कर दी है।

जिस युवक की हत्या हुई, वह सात बहनों का इकलौता भाई

पुलिस सूत्रों ने बताया कि जिस युवक की हत्या हुई, वह सात बहनों का इकलौता भाई था। बुधवार देर शाम उसके मित्र उसे घर से बुलाकर लाए थे। सभी दोस्त बोहरवाड़ी कॉलोनी में आपस में बातचीत कर रहे थे कि तभी घर जाने के लिए एक युवक अपनी बाइक पीछे ले रहा था। तभी एक अन्य बाइक पर तीन युवक वहां से गुजर रहे थे और उनकी बाइक इसकी बाइक से भिड़ गई थी। इसी को लेकर उनके बीच विवाद शुरू हो गया था और इसी दौरान खांटवाड़ा निवासी निखिल खांट ने बाबा बस्ती निवासी अजय राठौड़ पुत्र किशन राठौड़ पर क्रिकेट बैट से हमला कर दिया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

तीन चाचाओं के एक भी लड़का नहीं

इधर, कोतवाली थानाधिकारी रतन सिंह चौहान का कहना है कि पिता किशन राठौर की शिकायत पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया। उन्होंने बताया कि मृतक अजय सात बहनों का इकलौता भाई था। यहां तक उसके अन्य तीन चाचाओं के एक भी लड़का नहीं था और वह घर में सभी का प्रिय था।

आरोपित युवक को डिटेन कर लिया गया

उन्होंने बांस और बल्ली के व्यापारी के यहां लूटपाट की और आरोपियों के घर की ओर बढ़ने लगे। वहां पहले से तैनात राजतालाब थाने के पुलिस बल ने इन युवाओं को बल प्रयोग कर खदेड़ा। एसपी राजेश कुमार मीणा एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कान सिंह भाटी भी मौके पर बने हुए हैं और पीड़ित पक्ष से समझाने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि आरोपित युवक को डिटेन कर लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है। पता लगाया जा रहा है कि यह आपसी रंजिश का मामला है या अनायास झगड़े के दौरान हुई हिंसा।  

हत्या आरोपितों के कॉलोनी में पुलिस बल तैनात

अजय की मौत की सूचना पर उसके परिजन और समाज के लोग एकत्रित हो गए और बेटे की हत्या करने वालों के घर की ओर जाने लगे। इस बीच पुलिस को सूचना मिली और उन्होंने हत्या आरोपितों के घरों तथा कॉलोनी में पुलिस बल तैनात कर दिया। इसी बीच पता चला कि युवाओं की भीड़ ने नगर परिषद के सामने उत्पात शुरू कर दिया।

 

Related Articles

Back to top button