कोरोना संक्रमित 63 वर्षीय एक बुजुर्ग की बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में हुई मौत, 12 डाक्टरों समेत म‍िले 194 पाजिटिव

कोरोना संक्रमित 63 वर्षीय एक बुजुर्ग की बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में मौत हो गई। तीन साल से फालिज और सांस की बीमारी से जूझ रहे बुजुर्ग ने कोरोनारोधी टीका भी नहीं लगवाया था। तीन जनवरी को उन्हें जिला अस्पताल ले आया गया था। कोरोना की पुष्टि के बाद मेडिकल कालेज में उनका इलाज चल रहा था। पिछले साल जुलाई में जिला में कोरोना संक्रमित की मौत हो गई थी। अब पांच महीने 28 दिन बाद किसी व्यक्ति की मौत हुई है। रविवार को इस सीजन के सर्वाधिक 194 पाजिटिव मिले हैं। जिले में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 587 हो गई है।

यह म‍िले संक्रम‍ित

बाबा राघवदास मेडिकल कालेज के 12 रेजीडेंट डाक्टर भी कोरोना संक्रमित मिले हैं। इससे पहले 20 से ज्यादा डाक्टर, उनके स्वजन व स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित मिल चुके हैं। डाक्टरों के लगातार संक्रमित होने से मेडिकल कालेज की ओपीडी में सोमवार को इलाज में दिक्कत हो सकती है। रजही स्थित रेलवे सुरक्षा बल के कैंप में 39 जवानों में संक्रमण मिला। यहां 36 जवान संक्रमित मिले थे। दो दिनों में 75 जवानों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य विभाग सभी जवानों के साथ ही उनके संपर्क में आने वाले नागरिकों की भी जांच कराने में जुट गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में काफी तेजी से फैल रहा है। सीएमओ डा. आशुतोष दुबे ने बताया कि रविवार को मिले संक्रमितों में 161 शहर और 33 ग्रामीण क्षेत्र के हैं। पहली लहर से अब तक जिले में 60 हजार 33 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें से 58 हजार 597 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। 849 की मौत हो चुकी है।

इन स्थानों के हैं संक्रमित

झंगहा के एक ही परिवार से सात लोग, जगन्नाथपुर के एक परिवार के चार लोग, बशारतपुर के एक ही परिवार के चार, मदनमोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय का एक छात्र, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के कुछ स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित मिले हैं।

रेलवे स्टेशन पर मिले पांच संक्रमित

रविवार को रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों की जांच हुई तो पांच संक्रमित मिले।

कोरोनारोधी टीका जरूर लगवाएं

सीएमओ डा. आशुतोष दुबे ने बताया कि बड़हलगंज के जिस बुजुर्ग की मौत हुई है उन्होंने कोरोनारोधी टीका की एक भी डोज नहीं लगवाई थी। जिन लोगों ने कोरोनारोधी टीका लगवाया है वह संक्रमित होने के बाद भी घर पर ही ठीक हो जा रहे हैं। टीका लगाने से शरीर में एंटीबाडी बनती है। सीएमओ ने टीका न लगवाने वालों से अपील की कि वह निकटतम बूथ पर पहुंचकर टीका जरूर लगवाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − 7 =

Back to top button