कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार पर किए तीखे प्रहार…

धौलपुर दौरे पर पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार पर तीखे प्रहार किए हैं। कोरोना प्रबंधन में मोदी सरकार को विफल बताते हुए आमजन के सिर पर महंगाई का भारी भारी थोपने का आरोप लगाया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने मित्रों को लूट की खुली छूट देने के भी गंभीर आरोप लगाए। पेगासस प्रकरण में पत्रकार सुप्रीम कोर्ट चुनाव आयोग राजनीतिक पार्टियां सभी कि मोदी सरकार ने जासूसी कराई है। विपक्षी दल एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं की भी मोदी सरकार जादू की करा रही है।

प्रेस वार्ता के दौरान कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने कहा कि कोरोना महामारी और महंगाई को रोकने में केंद्र सरकार विफल रही है। मौजूदा वक्त में देश की जनता महंगाई से भारी त्रस्त है। पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। आमजन को मिलने वाला सरसों का खाद्य तेल दोगुनी रेट पर पहुंच चुका है। पेट्रोलियम के साथ खाद्यान्न वस्तुओं की महंगाई को सरकार नियंत्रित कर सकती हैं। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मित्रों को लूट की खुली छूट दे रखी है।

मोदी सरकार जमाखोरों से मिलकर देश को लूटने का काम कर रही है। पेगासस प्रकरण में पत्रकार सुप्रीम कोर्ट चुनाव आयोग राजनीतिक पार्टियां सभी कि मोदी सरकार ने जासूसी कराई है। विपक्षी दल एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं की भी मोदी सरकार जादू की करा रही है। पूर्व में अमेरिका के राष्ट्रपति मिक्सन ने विपक्ष के सांसदों की जासूसी कराई थी। लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। पेगासस बनाने वाली कंपनी सार्वभौमिक सरकार को ही इस सॉफ्टवेयर को बेचती है।

मोहन प्रकाश ने हमला करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आप इस जिम्मेदारी से बच नहीं सकते। लोकतंत्र में जासूसी का काम घिनौना कृत्य है। जासूसी कराने की कीमत मोदी सरकार को चुकानी पड़ेगी। उन्होंने कहा पेगासस ऐसा यंत्र है जिसके माध्यम से बंद मोबाइल भी खुल सकता है।

मोहन प्रकाश ने कहा कि पेगासस ईवीएम मशीन में भी दखल दे सकता है। पैगासस की जासूसी चुनाव आयोग में भी हुई है। उसके अलावा सुप्रीम कोर्ट की भी मोदी सरकार ने जासूसी कराई है। अगला चुनाव आयोग को वैलेट पेपर पर कराना चाहिए। जब इतने बड़े पैमाने पर जासूसी की जा रही है तो ईवीएम मशीन में क्यों नहीं हो सकती।

मोहन प्रकाश ने कहा कि कोरोना प्रबंधन में भारत सरकार की आपराधिक लापरवाही सामने आई है। सरकार के कुप्रबंधन की बदौलत लाखों जाने चली गई। जिन परिवारों के सदस्य कोरोना का शिकार हुए उनकी सबसे दयनीय दशा हुई है। आरएएस परीक्षा में कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के परिजन एवं रिश्तेदार उत्तीर्ण होने पर मोहन प्रकाश ने कहा कि इस मसले पर राज्य सरकार और आरपीएससी को संज्ञान लेना चाहिए। सरकार को पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच करानी चाहिए। उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा राज्य सरकार और आरपीएससी मामले की निष्पक्ष जांच करेगी।

प्रदेश की कांग्रेस सरकार में चल रहे सियासी उठापटक को लेकर मोहन प्रकाश ने कहा कि सचिन पायलट एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का मसला हाईकमान के पाले में है। सचिन पायलट हाईकमान के संपर्क में हैं। हाईकमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं सचिन पायलट के बीच उत्पन्न विवादों को सुलझा लेगा। प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों को लेकर कहा सरकार कढ़ाई से कदम उठाती है।

संवाददाता- राकेश गोस्वामी, धौलपुर, नेक्स्ट इण्डिया टाइम्स

देश और विदेश की ताज़ातरीन खबरों को देखने के लिए हमारे चैनल को like और Subscribe कीजिए
Youtube- https://www.youtube.com/NEXTINDIATIME
Facebook: https://www.facebook.com/Nextindiatimes
Twitter- https://twitter.com/NEXTINDIATIMES
Instagram- https://instagram.com/nextindiatimes
हमारी वेबसाइट है- https://nextindiatimes.com
Google play store पर हमारा न्यूज एप्लीकेशन भी मौजूद है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven − five =

Back to top button