सीएम बोम्मई ने किया पी रमैया से जुड़े किस्सों को याद, जानें क्या कहा…

नानू हिंदू रमैया के पुस्तक विमोचन समारोह में सीएम बसवराज बोम्मई ने वरिष्ठ पत्रकार पी रमैया की जमकर तारीफ की। सीएम बोम्मई ने उनकी पत्रकारिता की तारीफ की। साथ ही उनके द्वारा किए गए कार्यों का भी बखान किया।

 कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने ‘नानू हिंदू रमैया’ के पुस्तक विमोचन समारोह में वरिष्ठ पत्रकार पी रमैया की सराहना की। उन्होंने कहा कि सत्य उनके आदर्श और विचारधारा रहे हैं। वह पत्रकारिता के क्षेत्र के एक तपस्वी हैं। जो राज्य में हुई कई घटनाओं के गवाह रहे हैं और उन्होंने राजनेताओं की दूसरी पीढ़ी और पत्रकारों की तीसरी पीढ़ी को भी देखा है।

सीएम बोम्मई ने की पी रमैया की तारीफ

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि वह पुरस्कार पाने के लिए खबरों को सनसनीखेज बना सकते थे, लेकिन उन्होंने जो लिखा है वह वास्तविकता है। वह एक सच्चे पत्रकार हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की सोच और व्यक्तित्व बदल जाएगा। लेकिन रमैया का व्यक्तित्व वही रहेगा। सीएम बोम्मई ने आगे कहा कि वह कई मुख्यमंत्रियों के करीबी हैं। पहले हम पत्रकारों को गरीब पत्रकार कहते थे, लेकिन अब उस शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जाता है क्योंकि समय बदल गया है।सीएम बोम्मई ने याद किया कि उनके पिता और वरिष्ठ पत्रकार पी रमैया की अच्छी दोस्ती थी। उन्होंने आगे कहा कि मैं उन्हें सुनकर ही बड़ा हुआ हूं। पत्रकारों के लिए अपने लेखन की सीमाओं और प्रभाव को समझना बहुत महत्वपूर्ण है। रमैया लंबे समय तक हिंदू अखबार से जुड़े रहे। उस दौर में समाचार पत्र अपने मूल्यों के लिए जाने जाते थे और स्वतंत्रता के पूर्व और बाद के दौर में अखबार ने प्रमुख भूमिका निभाई है। रमैया ने सिंचाई और ऊर्जा पर जो लेख लिखे हैं, वे आज भी सुरक्षित हैं।

महात्मा गांधी भवन में हुआ था आयोजन

मुख्यमंत्री बोम्मई ने पत्रकार पी रमैया को राज्य की अमूल संपत्ति करार दिया। उन्होंने कहा कि ये पुस्तक छात्रों को प्रेरित करेगी। मुख्यमंत्री ने यह टिप्पणी महात्मा गांधी भवन में आयोजित अभिमानी प्रकाशन द्वारा प्रकाशित रमैया के अनुभव पर आधारित नानू हिंदू रामैया पुस्तक के विमोचन के दौरान कही।

Related Articles

Back to top button