मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा-मैं किसी नायक फ़िल्म का हीरो नहीं जनता का सेवक हूं 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा मैं किसी नायक फ़िल्म का हीरो नहीं, मैं तो जनता का सेवक हूँ और राज्य के सीएम पद के दायित्वों का निर्वहन कर रहा हूं। नईदुनिया के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अधिकांश अधिकारी व कर्मचारी निष्ठापूर्वक कार्य कर रहे हैं और उनकी वजह से सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं का क्रियान्वयन धरातल पर दिख रहा है। ये सच है कि कार्य के प्रति लापरवाह पाए जाने वाले अफसरों और कर्मचारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा रही है। मुख्यमंत्री सूरजपुर जिले के भटगांव में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भेंट मुलाकात के दौरान ग्रामीणों से मिल रही शिकायतों का यथासंभव त्वरित निराकरण किया जा रहा है।आवश्यकता अनुरूप करोड़ो के विकास कार्यो की हमने घोषणा भी जनहित में की है। विभिन्न योजनाओं एवं विभिन्न मदो से विकास कार्यो को मूर्तरूप दिया जाएगा। हमने जो घोषणा की है, उसका क्रियान्वयन शत प्रतिशत होगा। उन्होंने बताया कि लोगो की समस्याएं जानने के बाद उन्होंने पात्र आदिवासी और गैर आदिवासी समुदाय के लोगों को वनाधिकार पत्र प्रदान करने का निर्देश संबंधित अमले को दे दिया है। जिले में सामने आई पानी की सबसे बड़ी समस्या के निराकरण के लिए नरवा संवर्धन के माध्यम से जल संरक्षण तथा भूजल स्तर को बढ़ाने पर जोर देने का निर्देश भी जिला प्रशासन को दे दिया है।

जिसमे रेन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था भी हो। उन्होंने जल प्रबंधन के लिए जिला प्रशासन को विस्तृत कार्ययोजना तैयार करने और आवर्ती चराई के अन्तर्गत आने वाले गोठानों को समय में पूर्ण करने के निर्देश भी जारी करने की बात बताई। उन्होंने नरवा कार्यक्रम को अभियान के रूप में चलाने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया है।

शिकायतों व समस्याओं की कर रहे समीक्षा

मुख्यमंत्री बघेल ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि वे भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान आमजनों से प्राप्त शिकायतों व समस्याओं की लगातार समीक्षा कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एसईसीएल विश्रामगृह में अधिकारियों की समीक्षा बैठक में उन्होंने राजस्व विभाग समेत शिक्षा, वन और स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की मुख्य रूप से समीक्षा की। उन्होंने बताया कि गत दिवस बिहारपुर में छात्रों द्वारा पढ़ाई से जुड़ी अनियमितता के बारे में बताया गया था। जिस पर उन्होंने तत्काल जिला शिक्षा अधिकारी को वहां के शिक्षकों का तबादला करने और नए शिक्षक भेजने का निर्देश दे दिया है। आदेश की अवमानना करने पर निलंबित करने का भी निर्देश दिया है।

उन्होंने कहा कि अतिक्रमण की शिकायतों पर राजस्व अधिकारियों को त्वरित निष्पक्ष कार्रवाई के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही और आम लोगो की वाजिब समस्याओं के निराकरण में उदासीनता को कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा।

चार दिन में 16 स्थानों पर भेंट मुलाकात

मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्यभर में आम लोगों को सुशासन मुहैय्या कराना और विकास उनकी प्राथमिकता है। उसी दिशा में उनकी सरकार काम कर रही है। उन्होंने भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान चार दिन में 16 स्थानों पर आम लोगों से मुलाकात कर उनकी समस्याएं जानी। यथासंभव उनकी समस्याओं का त्वरित निराकरण भी किया। जहां लापरवाही उजागर हुई, वहां संबंधितो पर तत्काल अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की गई है।

महराज कभी सरकारी ,कभी निजी हेलीकाप्टर में दौरा करते हैं

स्वास्थ्य मंत्री के निजी हेलीकाप्टर से दौरे व कलेक्टर, एसपी के मुलाकात नही करने को लेकर आए बयान पर उन्होंने फिर कहा कि “महाराज साहब” कभी सरकारी तो कभी निजी हेलीकाप्टर से दौरा करते है। वो उंनका निजी मामला है। रहा सवाल कलेक्टर, एसपी के नहीं पहुंचने का, तो इस मामले में मैं पहले भी कह चुका हूं कि प्रभार क्षेत्र वाले जिलों में प्रभारी मंत्री के कार्यक्रम में कलेक्टर, एसपी मौजूद रहेंगे। विभागीय मंत्री के प्रवास के दौरान उनके विभाग के अधिकारी मौजूद रहेंगे। उनके कार्यक्रमो में कलेक्टर,एसपी की मौजूदगी जरूरी नहीं है।

भाजपा जनता को गुमराह कर रहीभाजपा प्रदेश प्रभारी के इस बयान पर कि आगामी विधानसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ में सीएम का कोई चेहरा नही होगा, चुनाव पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के चेहरे पर चुनाव लड़ा जाएगा के सवाल पर कहा कि डॉ रमन सिंह अभी भी अपने को छोटा चेहरा मान रहे हैं भाजपा जनता को गुमराह कर रही है। भाजपा की कथनी और करनी में अंतर को प्रदेश की जनता जान चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × 4 =

Back to top button