केंद्र का पेंशन एवं पेंशनभोगी कल्याण विभाग SBI के साथ मिलकर बनाएगा एकीकृत पेंशन पोर्टल

नई दिल्ली, पेंशनधारकों के जीवन को आसान बनाने के लिए एकीकृत पेंशन पोर्टल तैयार किया जाएगा। केंद्र का पेंशन एवं पेंशनभोगी कल्याण विभाग (डीओपीपीडब्ल्यू) देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआइ के साथ मिलकर इस पोर्टल को बनाएगा। केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पेंशनभोगियों को निर्बाध सेवाएं प्रदान करने के लिए डीओपीपीडब्ल्यू और एसबीआइ के मौजूदा पोर्टलों को जोड़कर एक एकीकृत पेंशन पोर्टल के निर्माण के लिए तत्काल प्रयास की जरूरत है। बयान में यह भी कहा गया है कि डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के लिए ‘फेस आथेंटिकेशन’ तकनीक के उपयोग को लेकर बैंकों को व्यापार प्रचार-प्रसार करना चाहिए। ऐसा करने से पेंशनधारकों के जीवन को आसान बनाने में काफी हद तक मदद मिलेगी।

केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय (Ministry of Personnel, Public Grievances and Pensions) ने बयान में कहा कि पेंशनभोगियों से संबंधित इनकम टैक्‍स संबंधी मसलों के साथ-साथ जीवन प्रमाणपत्र जमा करने के डिजिटल साधनों पर एक विशेष सत्र आयोजित किया गया। बयान के मुताबिक, यह फैसला किया गया है कि पेंशनभोगियों को बिना किसी बाधा के सेवाएं उपलब्‍ध करने के लिए DoPPW और SBI के मौजूदा पोर्टलों को जोड़कर एक एकीकृत पेंशन पोर्टल (Integrated Pension Portal) के निर्माण के लिए तत्काल प्रयास की जरूरत है।

बयान में कहा गया है कि डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के लिए ‘फेस ऑथेंटिकेशन तकनीक’ का बैंकों द्वारा व्यापक रूप से विज्ञापन किया जा सकता है। बयान के अनुसार इन कार्यक्रमों से पेंशनभोगियों के जीवन को आसान बनाने में काफी हद तक सहयोग मिलने की उम्मीद है। बयान के अनुसार, अनुमान है कि इन योजनाओं के जरिए पेंशनभोगियों की जिंदगी खुशहाल बनाने के उद्देश्‍य में बहुत हद तक सफलता मिलेगी। भारतीय स्‍टेट बैंक के साथ मिलकर देश भर में ऐसे चार जागरूकता प्रोग्राम आयोजित किए जाएंगे। बयान में कहा गया है कि पेंशन देने वाने अन्‍य बैंकों के साथ मिलकर भी ऐसे जागरूकता अभियान साल 2022-23 में चलाए जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × 4 =

Back to top button