क्रिश्चियन कॉलेज मामले में कोर्ट ने माना अवमानना का मामला

उच्च न्यायालय ने लखनऊ क्रिश्चियन कालेज के प्रबन्धकीय मामले में गत 8 जुलाई 2022 को जिलाधिकारी लखनऊ सहित 5 अधिकारियों द्वारा दूसरे पक्ष को प्रबन्धकीय कार्य सौंपने व ताला तुड़वाने के मामले में पांच शीर्ष अधिकारियों को अवमानना का नोटिस जारी किया है।

लखनऊ (आरएनएस)

 इन अधिकारियों में जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार, सहायक बेसिक शिक्षा निदेशक मुकेश कुमार, संयुक्त शिक्षा निदेशक सुरेन्द्र कुमार तिवारी, डीआईओएस लखनऊ राकेश कुमार, ज्वाइंट कमिश्नर पीयूष मोर्डिया सहित सुबोध सी. मण्डल व रवि राबर्ट लॉयल शामिल हैं। गौर हो कि गत 22 दिसम्बर 2021 को न्यायालय ने एकल पीठ के प्रशासक नियुक्त सम्बन्धी आदेश को स्थगित करते हुए वर्तमान सोसाइटी को कार्य करने का आदेश दिया था। जिस पर जिलाधिकारी ने गत 05 जनवरी 2022 को याची अणिमा रिसाल सिंह को चार्ज सौंप दिया था। लेकिन गत 08 जुलाई 2022 को डीएम सहित सैकड़ो पुलिस वाले क्रिश्चियन कालेज की सभी शाखाओं में ताला तुड़वाकर पूर्व प्रबन्धक आरआर लॉयल को जबरन चार्ज दिलवाते जेसी पीयूष मोर्डि्रया ने कई प्राथमिकी दर्ज कराई तो संयुक्त शिक्षा निदेशक सुरेन्द्र तिवारी ने पुन: 14 जुलाई 2022 को प्रधानाचार्य राजकीय हुसैनाबाद कालेज को नियुक्त कर दिया। जिसके विरूद्ध अणिमा रिसाल सिंह ने अवमानना याचिका योजित किया जिस पर उच्च न्यायालय ने 04 अगस्त 2022  को डीएम समेत उपरोक्त अधिकारियों को अवमानना का नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया है। 

राष्ट्रीय न्यूज़ 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

sixteen − nine =

Back to top button