व्यापारी की हत्या का पर्दाफाश, सम्पति विवाद बनी हत्या की वजह, भाई-भतीजे ने कराई हत्या

पुलिस ने मर्डर का खुलासा करते हुए मृतक के सगे भाई, भतीजे और एक अन्य हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

राजस्थान के धौलपुर जिले के कोतवाली थाना इलाके में बुधवार सुबह घर से दूध लेने गए 60 वर्षीय बुजुर्ग के लापता होने के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। बुजुर्ग की हत्या उसी के सगे भाई और भतीजे ने मकान के बंटवारे को लेकर कराई है। पुलिस ने मर्डर का खुलासा करते हुए मृतक के सगे भाई, भतीजे और एक अन्य हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

इस मामले पर बोलते हुए पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत ने बताया कि पुराना शहर निवासी 60 वर्षीय अनिल उर्फ कक्कन गुप्ता पुत्र शिव नारायण गुप्ता बुधवार सुबह 4:00 बजे शहर के शेरगढ़ किले के पास दूध लेने गया था। लेकिन 3 घंटे तक बुजुर्ग दूध लेकर वापस नहीं लौटा तो पत्नी को चिंता हुई। पत्नी ने दूधिया को फोन लगाकर जानकारी ली, तो पता चला कि आज अनिल गुप्ता दूध लेने नहीं आए। जिससे पत्नी की चिंता और बढ़ गई। मृतक का भाई सुनील गुप्ता एवं अन्य परिजन शेरगढ़ के पास पहुंच गए। जहां जंगल में खून एवं मिर्ची पाउडर पड़ा हुआ था। जिससे अनिल की पत्नी के होश उड़ गए। मामले की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर एफएसएल की टीम को बुलाकर साक्ष्य लिए। उन्होंने बताया ब्लाइंड मर्डर होना घटना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती थी। पुलिस ने तकनीकी साक्ष्यों पर मामले को राजफाश करने के लिए जाल बिछाया। 2:00 बजे के बाद पुलिस को मामले में अहम सुराग लग गए।पुलिस ने हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए मृतक के भतीजे सत्येंद्र गुप्ता को राउंडअप कर लिया।

उन्होंने बताया सत्येंद्र के हिरासत में आने के बाद ही मामले का खुलासा हो गया। मृतक अनिल गुप्ता एवं सुनील गुप्ता में मकान के बंटवारे को लेकर पुराना विवाद चला रहा था। मकान के बंटवारे को लेकर मई में भी फोर व्हीलर गाड़ी से अनिल गुप्ता को कुचल कर हत्या करने की साजिश रची थी। लेकिन तत्कालीन समय पर आरोपी कामयाब नहीं हो सके। मृतक के छोटे भाई सुनील गुप्ता एवं उसके पुत्र सत्येंद्र ने हत्या की रूपरेखा सुनियोजित तरीके से बना डाली। हत्या को अंजाम देने के लिए हसमुद्दीन एवं मुकीम को भी शामिल किया गया। एसपी ने बताया रोजाना की तरह अनिल गुप्ता बुधवार सुबह घर से दूध लेने के लिए रवाना हुआ था। लेकिन आरोपी सत्येंद्र एवं हसमुद्दीन पहले से ही शेरगढ़ किले के पास पुलिया पर घात लगाए बैठे गए। अनिल गुप्ता जैसे ही पुलिया के पास पहुंचा तो आरोपियों ने मिर्ची पाउडर आंखों में डाल दिया। उसके बाद धारदार हथियार बल्लम से गोदकर निर्मम हत्या कर दी। बुजुर्ग की हत्या करने के बाद आरोपी शव को ठिकाने लगाने बोरे में डालकर चंबल नदी ले गए। आरोपियों ने पुल के ऊपर से शव को चंबल नदी में फेंक दिया। उन्होंने बताया पुलिस ने गहन अनुसंधान कर 24 घंटे में ब्लाइंड मर्डर का खुलासा किया है। पुलिस ने हत्या के मुख्य आरोपी सुनील गुप्ता सत्येंद्र गुप्ता एवं हसमुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया है। फरार आरोपी को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

धौलपुर से राकेश गोस्वामी की रिपोर्ट, नेक्स्ट इंडिया टाइम्स

देश और विदेश की ताज़ातरीन खबरों को देखने के लिए हमारे चैनल को like और Subscribe कीजिए
Youtube- https://www.youtube.com/NEXTINDIATIME
Facebook: https://www.facebook.com/Nextindiatimes
Twitter- https://twitter.com/NEXTINDIATIMES
Instagram- https://instagram.com/nextindiatimes
हमारी वेबसाइट है- https://nextindiatimes.com
Google play store पर हमारा न्यूज एप्लीकेशन भी मौजूद है

विज्ञापन के लिए संपर्क करें- contact@nextindiatimes.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 2 =

Back to top button